(Getting Started) सिविल सेवा परीक्षा हेतु समसामयिकी (Current Affairs) की तैयारी कैसे करें ?


सिविल सेवा परीक्षा हेतु समसामयिकी (Current Affairs) की तैयारी कैसे करें ?


सिविल सेवा परीक्षा में सफलता के लिए समसामयिकी की जानकारी जरुरी है । प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के साथ साक्षात्कार में सफलता हेतु समसामयिकी मुद्दो की जानकारी और समझ दोनों आवश्यक है । इसके लिए बेहतर रणनीति और समसामयिकी मुद्दो का लगातार अध्ययन लाभदायक होता है । आईएस एग्जाम पोर्टल का यहाँ प्रयास है कि अभ्यर्थी को समसामयिकी मुद्दो की तैयारी किस प्रकार से करनी चाहिए ,इस सम्बन्ध में एक बेहतर रणनीति बता सके ।

सामान्यतः प्रारंभिक परीक्षा में समसामयिकी से 15 से 20 प्रश्न पूछे जाते हैं । ये प्रश्न विभिन्न मुद्दों से सम्बंधित होते हैं जैसे - भारत के आर्थिक ,पर्यावरण, अन्य देशो से द्विपक्षीय सम्बन्ध और विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय मुद्दें आदि । मुख्य परीक्षा में 2013 से बदलाव के बाद , लगभग 200 से ज्यादा अंक के प्रश्न समसामयिकी से मुख्य परीक्षा 2013 में पूछे गए । इसप्रकार यह अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है कि समसामयिकी मुद्दो की जानकारी सिविल सेवा परीक्षा के लिए कितना आवश्यक है ?

समसामयिकी की तैयारी हेतु रणनीति-

  • जो छात्र इस वर्ष प्रारंभिक परीक्षा में शामिल हो रहे हैं , उन्हें जनवरी 2013 से समसामयिकी की घटनाओं का क्रमिक रूप से पढ़ना चाहिए । इसके लिए प्रतियोगिता दर्पण की वेबसाइट से पुरानी मैगज़ीन की सहायता ले सकते हैं । साथ ही नियमित रूप से हर महीने का एक समसामयिकी की एक मैगज़ीन अध्ययन करे । यह प्रतियोगिता दर्पण या क्रॉनिकल हो सकता है ।

  • कुछ महत्वपूर्ण घटनाये होती हैं जिनके बारे में जानकारी, सफलता हेतु आवश्यक हैं । जैसे - बी.टी ब्रिंजल, भारत -अमेरिका नाभिकीय समझौता,शिक्षा का अधिकार, महिला आरक्षण बिल ,सच्चर कमिटी की सिफारिशें आदि । इन टॉपिक बारे में जानकारी के लिय विश्वसनीय स्रोत का सहायता लेना लाभदायक रहेगा । द हिन्दू के इवेंट डायरी परीक्षा के दृष्टिकोण से बेहतर है ।

  • अभ्यर्थी को नियमित रूप से एक राष्ट्रीय समाचार पत्र पढ़ना चाहिए। जहाँ तक सम्भव हो 'द हिन्दू' अख़बार पढ़ना चाहिए । हिंदी माध्यम के छात्रों को यदि अंग्रेजी भाषा समझने में कठिनाई हो रही हो तो ,धीरे धीरे अपने अंग्रेजी कौशल को बढ़ाना चाहिए। इससे छात्रों दो लाभ होंगे एक तो सी-सैट प्रश्न पत्र में अंग्रेजी के प्रश्नो हल करने में सहायता मिलेगी, साथ ही अंग्रेजी के अख़बार और मैगजीन को पढ़ने और समझने में आसानी होगी ।

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

हार्ड कॉपी में सी-सैट (CSAT) अध्ययन सामाग्री के लिए यहां क्लिक करें

सामान्य अध्ययन प्रारंभिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन कोचिंग (पेपर - 1 Paper - 1)

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

'द हिन्दू' समाचार पत्र क्यों ?

  • अंग्रेजी में ' द हिन्दू' अख़बार समसामयिकी के दृष्टिकोण से उपयुक्त अख़बार है । 'द हिन्दू' अख़बार में राष्ट्रीय ,अंतर्राष्ट्रीय, आर्थिक ,विज्ञान और तकनीक के नवीनतम खोज अदि से सम्बंधित ख़बरों का अच्छा विश्लेषण होता है , जो समसामयिकी के लिए काफी उपयोगी होता है । हिंदी दैनिक में अभ्यर्थी - हिन्दुस्तान , दैनिक जागरण (राष्ट्रीय संस्करण ), दैनिक भास्कर आदि की सहायता ले सकते है । इसके अलावा हिन्दी माध्यम के छात्र ख़बरों के लिए बीबीसी - हिन्दी साइट की भी सहायता ले सकते हैं ।

  • साथ ही फ्रंटलाइन, इकनोमिक एंड पोलिटिकल वीकली , द इकोनॉमिस्ट , जैसे पत्रिकाओं को भी पढ़ना चाहिए । ये पत्रिकायें काफी अनुसन्धान के बाद लिखें जाते हैं। सिविल सेवा परीक्षा के जटिल प्रश्नों के उत्तर देने में इनसे सहायता मिलती है । भारत सरकार योजनाओ और लोक कल्याणकारी कार्यक्रमों की जानकारी हेतु योजना और कुरुक्षेत्र मासिक पत्रिकाओं का अध्ययन लाभदायक होगा ।

वर्ष 2012 के प्रारंभिक परीक्षा में समसामयिकी से पूछे गए प्रश्नों का उदाहरण-

प्रश्न - राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के संदर्भ में , प्रशिक्षित सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता , 'आशा '(ASHA) के कार्य निम्न में से कौन -से हैं ?

  1. स्त्रियों को प्रसव- पूर्व देखभाल जाँच के लिए स्वास्थ्य सुबिधा केन्द्र साथ ले जाना
  2. गर्भावस्था के प्रारंभिक संसूचन के लिए गर्भावस्था परीक्षण किट प्रयोग करना
  3. पोषण और प्रतिरक्षण के विषय में सूचना देना
  4. बच्चें का प्रसव कराना

प्रश्न -निम्नलिखित में से कौन-सी अनुशंसा /अनुशंसायें तेरहवें वित्त आयोग की सुस्पष्ट विशिष्टता /विशिष्टतायें है/ हैं ?

  1. वस्तुओं एवं सेवाओं पर कर (टैक्स ) लगाए जेन का अभिकल्प तथा इस प्रस्तावित अभिकल्प के संपालन से सम्बद्ध क्षतिपूर्ति पैकेज
  2. भारत के जनांकिकीय लाभांश के अनुरूप अगले दस वर्षो में लाखों नौकरियाँ सृजन करने की योजना
  3. केन्द्रीय करों के एक निश्चित अंश का स्थानीय निकायों को अनुदान के रूप में हस्तांतरण

आई ए एस (मुख्य परीक्षा ) 2013 में सामान्य अध्ययन द्वितीय प्रश्न पत्र में समसामयिक से पूछें गए प्रश्नों का अनुपात:

आई ए एस (मुख्य परीक्षा) 2013 में सामान्य अध्ययन तृतीय प्रश्न पत्र में समसामयिक से पूछें गए प्रश्नों का अनुपात:


 

एक्सप्रेस पॉइंट:

  • समसामयिकी की तैयारी करते हुए छात्रों को यह ध्यान देना चाहिए कि जिन टॉपिक से सामान्यतः प्रश्न पूछे जाते है उन्हीं टॉपिक को पढ़ने में अपना बहुमूल्य समय खर्च करना चाहिए । राजनीतिक दल के घोषणा पत्र या राजनीतिक दल से सम्बंधित खबरों को पढ़ने में समय नहीं बर्बाद करना चाहिए ।
  • अख़बार में संपादकीय पृष्ट को अवश्य पढ़ना चाहिए । इससे विश्लेषणात्मक क्षमता का विकास होता है जो सिविल सेवा परीक्षा में सफलता के लिए जरुरी है ।
  • संपादकीय पृष्ट को पढ़ते हुए अभ्यर्थी को संतुलित दृष्टिकोण रखना चाहिए । इसके द्वारा किसी भी मुद्दे पर संतुलित दृष्टिकोण विकसित करने में सहायता मिलती है ।


GIST और WEEKLY CURRENT AFFAIR के लिए यहां क्लिक करें

आप किसी भी सहायता व मार्गदर्शन के लिए हमे संपर्क कर सकते हैं।

IASEXAMPORTAL की ओर से सभी अभ्यर्थियो को शुभकामनाओं सहित !

आईएस एग्जाम पोर्टल हिन्दी टीम

© IASEXAMPORTAL.COM

आईएएस परीक्षा के लिए अधिक महत्वपूर्ण लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

हार्ड कॉपी में सी-सैट (CSAT) अध्ययन सामाग्री के लिए यहां क्लिक करें

सामान्य अध्ययन प्रारंभिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन कोचिंग (पेपर - 1 Paper - 1)

आईएस एवं सिविल सेवा की अन्य अध्ययन सामग्री के लिए आईएस एग्जाम पोर्टल-हिंदी पर पधारें

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

Disclaimer: IASEXAMPORTAL.COM संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के साथ संबद्ध नहीं है, संघ लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए www.upsc.gov.in पर क्लिक करें |

HOT! UPSC GS STUDY Kit Offer (1000/- Off)

For Study Materials Call Us at +91 8800734161 (MON-SAT 11AM-7PM)