(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा कृषि Paper-1 - 2010

UPSC CIVIL SEVA AYOG

संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2010 कृषि (Paper-1)

खण्ड ‘A’

1. निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणियाँ लिखिए, जो प्रत्येक लगभग 150 शब्दों में होनी चाहिए : 

(क) उत्तर-पूर्वी भारत में जैव कृषि की संभाव्यता 

(ख) उच्च सस्य उत्पादकता के लिए जल और पोषकों के बीच सहक्रिया का उपयोग करना 

(ग) प्रमुख बाध्यता 

(ग) भारत में चावल-चावल और चावल-गेहूँ सस्यन प्रणाली में प्रमुख बाध्यताएँ 

(घ) ज्वार वर्ग और गन्ने की कृषि की गुंजाइश एवं परिसीमाएँ 

2. भारतीय कृषि पर जलवायवी परिवर्तन के संभव प्रभाव को उजागर कीजिए। संभव न्यूनीकरण विकल्प क्या-क्या हैं ? इस संबंध में किसी राष्ट्रीय और/या अंतर्राष्ट्रीय विनियामक यांत्रिकत्वों पर टिप्पणी कीजिए। 

3. (क) एकीकृत कृषि प्रणाली (आई० एफ० एस०) के संदर्भ में . वर्षाधीन क्षेत्रों के लिए, लघु जोतों के विशेष उल्लेख के साथ, साध्य उद्यम विविधीकरण का वर्णन कीजिए। 30 

(ख) कृषि उत्पादन में मृदा-संबंधी प्रमुख बाध्यताओं का मुकाबला करने के लिए क्या-क्या प्रबंधन रणनीतियाँ हैं?

4. (क) मृदा विरचन के सक्रिय और निष्क्रिय कारकों के बीच विभेदन कीजिए। 

(ख) कृषि-संबंधी आयोजना में सुदूर संवेदन (रिमोट सेंसिंग) और भौगोलिक सूचना तंत्र (जी० आई० एस०) के इस्तेमाल पर टिप्पणी कीजिए। 

(ग) सस्यों के लिए मृदा परीक्षण आधारित पोषक सिफारिशों और किसानों द्वारा उनके अंगीकरण पर टिप्पणी कीजिए। 

(घ) सस्य उत्पादन के लिए हरी खाद डालने और जैव उर्वरकों के बीच विभेदन कीजिए।  

(घ) प्रसार कार्यक्रमों के मूल्यांकन के प्रक्रम पर टिप्पणी कीजिए।

खण्ड-"ख"

5. निम्नलिखित पर संक्षिप्त टिप्पणियाँ, प्रत्येक लगभग 100 शब्दों में, लिखिए : 

(क) सिंचाई जल की वाह हानियों का न्यूनतमीकरण 

(ख) मृदा और जल प्रदूषण की रोकथाम में औद्योगिक बहिःस्रावों का प्रबंधन

(ग) बदलते हुए ग्रामीण फार्म परिदृश्य में फार्म प्रबंधन की भूमिका एवं महत्त्व

(घ) जोतों के उपविभाजन और विखंडन के संदर्भ में सहकारी खेती 

(ङ) ग्रामीण विकास में स्वावलंबी समूहों की भूमिका 

6. (क) भारतीय कृषि में बेरोज़गारी और छद्म बेरोज़गारी की स्थिति पर चर्चा कीजिए। 

(ख) भारतीय कृषि विपणन की प्रमुख समस्याएँ गिनाइए। 

7. (क) अधिकतर जिलों में कृषि विज्ञान केन्द्रों की विद्यमानता के बावजूद, तर्क दिया जाता है कि केवल चयनित प्रौद्योगिकियाँ ही अंतिम सेवार्थियों तक पहुँची हैं। इस तर्क का मूल्यांकन कीजिए और प्रौद्योगिकियों के प्रसार में बाध्यताएँ गिनाइए। 

(ख) कृषि उत्पादन में जोखिम के न्यूनतमीकरण में फसल बीमा के महत्त्व का वर्णन कीजिए। 

(ग) भारत में सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण की क्रियापद्धति पर टिप्पणी कीजिए। 

8. (क) मृदा जलसंरक्षण की किन विभिन्न रीतियों का वर्षा-प्रधान कृषि में इस्तेमाल किया जा सकता है? 

(ख) भारत में भौमजल की प्राप्यता की भौगोलिक स्थिति पर प्रकाश डालिए। 

(ग) संसाधन नियतन और लागत न्यूनतमीकरण में कृषि आयोजना और बजटन के महत्त्व को प्रकाशमय कीजिए।

Click Here to Download PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 11 YEARS SOLVED PAPERS PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 10 Years Categorised PAPERS

Study Noted for UPSC MAINS HISTORY Optional

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit