(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा इतिहास Paper-2 - 2010

UPSC CIVIL SEVA AYOG

संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2010 इतिहास (Paper-2)

खण्ड ‘A’

( आधुनिक भारत )

1. निम्नलिखित कथनों का समालोचनापूर्वक मूल्यांकन कीजिए, जो प्रत्येक लगभग 200 शब्दों में होना चाहिए : 

(क) “19वीं शताब्दी में शिक्षित मध्य वर्ग ने तर्कबुद्धि के क्षेत्र को अकसर कष्टकारी पाया क्योंकि उसका निहितार्थ औपनिवेशिक शासन के 'सभ्यीकरण' की ऐतिहासिक आवश्यकता था।"

(ख) “भारत में रेलवे का विकास, सार्वजनिक जोखिम पर निजी उद्यम का एक रोचक उदाहरण पेश करता है।" 

(ग) "अरुणा आसफ अली की, 1942 के आन्दोलन में, सक्रिय सहभागिता, भारत के स्वतंत्रता आन्दोलन में महिलाओं की भूमिका का प्रतीकीकरण था।" 

2. (क) “प्रशासनिक संरचना की दृष्टि से, 1858 के भारत सरकार अधिनियम, की मनशा परिवर्तन से अधिक अविच्छिन्नता थी!' क्या आप सहमत हैं? प्रमाणित कीजिए। 

(ख) “रणजीत सिंह के पश्चात् पंजाब के भाग्य का पतन पूर्वनिर्धारित ही था, क्योंकि नव-विक्टोरियाई साम्राज्यवाद के आवेग से उसका परास्त होना अवश्यम्भावी था।" सविस्तार समझाइए। 

(ग) 1937-1939 के दौरान के घटनाक्रमों ने भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस की राष्ट्रीय एकता की अपनी निर्धारित कार्यसूची को बलपूर्वक आगे बढ़ाने की योग्यता को बड़ी मात्रा तक कमज़ोर बना दिया था।" टिप्पणी कीजिए।

3. (क) अंग्रेज़ी शासन की आरम्भिक प्रावस्था में, भू-धृति नीति का रूप-निर्धारण करने में, आर्थिक विचारों ने क्या भूमिका निभाई थी? 

(ख) चर्चा कीजिए कि भारत के पुनर्जागरण आन्दोलन ने किस सीमा तक राष्ट्रीय चेतना के उदय में योगदान दिया था। 

4. (क) कृषि के वाणिज्यीकरण के प्रक्रम ने किस सीमा तक भारत में ग्रामीण परिदृश्य को प्रभावित किया था? 

(ख) उन कारकों पर चर्चा कीजिए जिनके फलस्वरूप दलित । चेतना का विकास हुआ और दलितों के सशक्तिकरण के लक्ष्य को सामने रखने वाले प्रमुख आन्दोलनों का उल्लेख कीजिए। 

खण्ड ‘B’

(विश्व इतिहास ) 

5. निम्नलिखित कथनों का समालोचनापूर्वक मूल्यांकन कीजिए, जो प्रत्येक लगभग 200 शब्दों में होना चाहिए : 

(क) "...वह (वॉल्टेयर) प्रबोध के युग में रह रहा था....। स्वयं युग ही प्रबुद्ध नहीं था।"-- ई० काण्ट । 

(ख) “सभी लम्बे प्रयाण (मार्च) छोटे कदर्मों से शुरू होते हैं।" 

(ग) “पेरेस्ट्रोइका का सार लोगों द्वारा यह महसूस करना है कि वे ही देश के स्वामी हैं।"_गोर्बाचोव।

6. (क) । यह कहना कहाँ तक सही होगा कि अमरीकी संविधान की प्रत्येक विशिष्टता अंततोगत्वा अंग्रेज़ी उद्गम की थी?

(ख) साम्राज्यवाद से आप क्या अर्थ निकालते हैं? अफ्रीका के मामले में उसके अद्वितीय अभिलक्षणों का संक्षेप में कथन कीजिए।

(ग) नेपोलियन का इंग्लैण्ड के साथ आर्थिक युद्ध किस सीमा तक उसके सर्वनाश का कारण बना? 

7. (क) इंडोनेशिया में डच औपनिवेशिक नीति का समालोचनात्मक परीक्षण कीजिए।

(ख) “1945 में, राजनीतिक रूप से विसंगठित और आर्थिक रूप से अपंग यूरोप का, शान्ति का सामना हुआ था।" सविस्तार सुस्पष्ट कीजिए। 

8. (क) “पूर्वी प्रश्न सदैव ही एक अन्तर्राष्ट्रीय प्रश्न रहा है।" सुस्पष्ट कीजिए।

(ख) उन परिस्थितियों को स्पष्ट कीजिए जिनके फलस्वरूप तीसरी दुनिया का उदय हुआ और विश्व मामलों पर उसके प्रभाव का विश्लेषण कीजिए।

Click Here to Download PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 11 YEARS SOLVED PAPERS PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 10 Years Categorised PAPERS

Study Noted for UPSC MAINS HISTORY Optional

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit