(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा पशुपालन एवं पशुचिकित्सा विज्ञान Paper-2 - 2011

UPSC CIVIL SEVA AYOG

संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2011 पशुपालन एवं पशुचिकित्सा विज्ञान (Paper-2)

खण्ड ‘A’

1. निम्नलिखित में से प्रत्येक पर लगभग 150 शब्दों में टिप्पणी लिखें : 

(a) कोशिका चक्र तथा सूत्रीविभाजन।

(b) तंत्रिकातंत्र पर असर दिखाने वाली औषधियां ।

(c) संकट विश्लेषण क्रांतिक नियंत्रण बिंदु (हजेर्ड एनालिसिस क्रिटिकल कंट्रोल प्वाइंट्स : HACCP) और उनकी . खाद्य जन्य प्राणिरुजीय रोगों के निवारण/नियंत्रण में भूमिका।

(d) किसी जनसंख्या में रोगों के घटित होने के विभिन्न प्रारूप ।

2. (a) ऐसिटोनरक्तता (कीटोनता) की हेतुकी, जानपदिन-रोगविज्ञान, रोगलक्षण चिह्न, रोगलक्षण विकृति विज्ञान तथा चिकित्सा की व्याख्या करें। 

(b) कुक्कुट प्रतिरक्षण विधियों में अभी हाल में क्या-क्या परिवर्धन हुए हैं ? 

3. (a) मनुष्यों में रेबीज को जलभीति (हाइड्रोफोबिया) का नाम भी क्यों कर दिया जाता है ? भारत में हाल में मनुष्यों में रेबीज़ से होने वाली मृत्यु की आघटन पर उच्च होने के कारणों की व्याख्या करें।

(b) श्वानों में रेबीज का जानपदिक-रोगविज्ञान, निदान, रोग निवारण, एवं नियंत्रण की व्याख्या करें।

4. (a) रसायनिक औषधियों की व्याख्या करें तथा सूक्ष्मजीवी व परजीवी संक्रमणों के नियंत्रण/चिकित्सा में उनकी कार्यविधि के संबंध में जानकारी दें।

(b) उन विभिन्न कवकाविषों के नाम गिनाइए जो कुक्कुट आहार में संदूषकों के रूप में उपस्थित हो सकते हैं। इनके उपचार तथा नियंत्रण हेतु उपलब्ध विविध उपायों के संबंध में संक्षेप में जानकारी दें। 

खण्ड-'B'

5. निम्नलिखित में से प्रत्येक पर लगभग 150 शब्दों में टिप्पणी लिखें : 

(a) पक्षि अंडे की संरचना लेबलयुक्त आरेख के साथ ।

(b) मृत मेमने की थोक कतरनें (होलसेल कट्स)।

(c) श्लेष्मलीय. प्रतिरक्षा तथा. संक्रामक रोगों से सुरक्षा प्रदान करने में उसकी भूमिका ।

(d) अश्वों में एजोटमेह (उद्यमी रेखीपेशी अपघटन-एग्जर्शनल रेबेडोमाइलिसिस)।

6. (a) पोंकनी रोग तथा FMD के निवारण, नियंत्रण एवं उन्मूलन के लिए गो जातीय पशुओं में कई वर्षों से नियमित टीकाकरण किया जा रहा है। हाल ही में पोंकनी रोग के उन्मूलन में सफलता प्राप्त कर ली गई है, किंतु FMD आज भी देश के अधिकांश भागों में स्थानिक रोग बना हुआ है। दोनों रोगों के बीच समानताओं और असमानताओं की व्याख्या करें एवं पोंकनी रोग उन्मूलन में सफलता तथा FMD में विफलता के कारणों की व्याख्या करें।

(b), मांस खाद्य उत्पाद निर्देश (मीट फूड प्रोडक्ट्स आर्डर : MFPO) के विभिन्न उपबंधों के बारे में संक्षिप्त जानकारी दें।

7. निम्नलिखित की भूमिका की व्याख्या करें :- 

(a) पशु कल्याण में SPCA | 

(b) न्यायसंबंधी आयुर्विज्ञान में DNA फिंगरप्रिंटिंग ।

8. (a) पारिभाषिक शब्द 'मृत्युज काठिन्य' से आप क्या समझते हैं ? पशुवध उपरांत घटित होने वाले उन परिवर्तनों के विषय में लिखें जब पेशी मीट में रूपांतरित हो जाती है।

(b) वधित पशुओं से भैषजिक उद्देश्यों हेतु उनकी विभिन्न ग्रंथियां/अंग जुटाने के लिए आप कैसे आगे बढ़ेंगे ? बधित पशुओं से प्राप्त आंत्रों, यकृत तथा पीयूष ग्रंथि की क्या-क्या भैषजिक उपयोगिताएं हैं ?

Click Here to Download PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 11 YEARS SOLVED PAPERS PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 10 Years Categorised PAPERS

Study Noted for UPSC MAINS HISTORY Optional

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit