(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा लोक प्रशासन Paper-1 - 2011

UPSC CIVIL SEVA AYOG


संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2011 लोक प्रशासन (Paper-1)


Exam Name: UPSC IAS Mains PUBLIC ADMINISTRATION (लोक प्रशासन) (Paper-1)
Marks: 250
Time Allowed: 3 Hours.

खण्ड 'A'

1. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए, जो प्रत्येक 200 शब्दों से अधिक में न हो : 

(क) प्रशासनिक तंत्र में 'विश्वसनीयता की संकटावस्था' पर केवल ‘सरकार के पुनराविष्कार' के द्वारा ही काबू पाया जा सकता है । टिप्पणी कीजिए ।

(ख) 'मीडिया नागरिकों की एक संसद है.।' स्पष्ट कीजिए ।

(ग) ई-शासन मैक्स वेबर के 'तर्कसंगतता का लौह पिंजरा' का अंतिम आगमन है । चर्चा कीजिए ।

2. (क) लोक प्रशासन की विद्या विशेष के विकास में मिनोब्रुक सम्मेलन I, II और III, इस विद्या विशेष के पुनर्संप्रत्ययीकरण और उसके परिवर्तनशील मूल्यों को प्रतिबिंबित करते हैं । स्पष्ट कीजिए । 

(ख) एम.पी. फौलट के अनुसार द्वंद्व समाधान का समालोचनात्मक परीक्षण कीजिए । समझाइए कि जटिल संगठनों के संदर्भ में, मैक्ग्रेगर उसके विचारों को किस प्रकार से आगे ले गया था । 

3. (क) जबकि डाउन्स का मॉडल अधिकतर मनोवैज्ञानिक अभिप्रेरण की थियोरी पर निर्भर करता है, निस्कानन का मॉडल नव-क्लासिकी विचारणा के द्वारा रचित है । उपर्युक्त के प्रकाश में, निर्णयन के लोक वरण उपागम पर चर्चा कीजिए।

(ख) संगठनात्मक विश्लेषण के लिए, तंत्र उपागम आज तक भी प्रासंगिक है । चर्चा कीजिए कि अध्ययन के अपने-अपने क्षेत्रों में, इस उपागम को चैस्टर बर्नार्ड और डेविड ईस्टन ने किस प्रकार से ग्रहण किया था ।

4. (क) जबकि 'धन के लिए मूल्य' लेखापरीक्षा का लक्ष्य बचत होता है और 'निष्पादन' लेखापरीक्षा दक्षता को खोजता है, 'सामाजिक लेखापरीक्षा किसी कार्यक्रम या क्रियाकलाप की प्रभाविता का परीक्षण करने के लिए, इन दोनों से आगे बढ़ जाता है । उपयुक्त उदाहरण प्रस्तुत करते हुए, इस कथन का परीक्षण कीजिए। 

(ख) (i) विधि सम्मत शासन और 'झोएट ऐडमिनिस्ट्राटिफ' की डाइसी की समझ का एक समालोचनात्मक . आकलन कीजिए । 

(ii) प्रत्यायोजित विधान के पक्ष में दलीलें प्रस्तुत कीजिए ।

(E-Book) UPSC MAINS PUBLIC ADMINISTRATION SOLVED PAPERS 

Public Administration for UPSC Mains Exams Study Kit

खण्ड 'B'

5. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए, जो प्रत्येक 200 शब्दों से अधिक में न हो : 

(क) 'बजट कीमत-टैग साथ लगे हुए लक्ष्यों की एक श्रृंखला होता है ।' स्पष्ट कीजिए।

(ख) 'नीति उसी समय निर्माण की जा रही होती है कि जिस समय वह प्रशासित की जा रही होती है और उसी समय वह प्रशासित की जा रही होती है कि जिस समय उसका निर्माण किया जा रहा होता है ।' टिप्पणी कीजिए ।

(ग) ‘पद वर्गीकरण समस्यात्मक हो सकता है । उसके प्रयोग में एक गंभीर शिकायत यह होती है, कि वह कर्मचारी का अमानवीकरण करता है ।' चर्चा कीजिए । 

6. (क) न तो एडवर्ड वाइडनर और न ही फ्रैंड रिग्स विकास प्रशासन के प्रक्रम का पर्याप्त रूप से वर्णन कर पाए. थे । उनके सैद्धांतिक विश्लेषणों में त्रुटियों और दुर्बलताओं को स्पष्ट कीजिए । 

(ख) नेहरूवी मॉडल से उदारीकरण मॉडल तक विकास के इतिवृत्त में, मील के पत्थरों का उल्लेख कीजिए।  

7. (क) सिविल सेवकों के लिए आवश्यक है कि वे अपने कार्य . में सामाजिक नैतिकतावादी हों, पौल ऐपलबी की उक्ति कि 'उत्तरदायी सरकार नैतिक सरकार होती है', के सिद्धांत पर चलते हों । सुशासन के प्रकाश में, इस कथन का परीक्षण कीजिए।

(ख) नीति विज्ञानों के क्षेत्र में निम्नलिखित कथनों का समालोचनात्मक परीक्षण कीजिए : 

(i) क्रमिक-वृद्धिक प्रतिरूप, लोक नीति निर्माण में एक रूढ़िवादी प्रवृत्ति को तथ्य के रूप में मान लेता 

(ii) ड्रौर का इष्टतम मॉडल, मितव्ययी तर्कसंगत मॉडल का अतिरिक्त तर्कसंगत मॉडल के साथ एक संलयन . 

8. (क) (i) संगठन तथा पद्धति कार्यालय के मुख्य प्रकार्य क्या होते हैं ?

(ii) सूचना का तंत्र, प्रबंधकों के द्वारा आयोजना और नियंत्रण को, क्रियान्वयन के प्रचालन तंत्र के साथ बाँध देता है । विशद रूप से स्पष्ट कीजिए।

(ख) प्रशासक बजट का, संचार और समन्वय के एक ढाँचे के रूप में, और इसके साथ-साथ संपूर्ण प्रशासनिक संरचना में प्रशासनिक अनुशासन का परिपालन करने के लिए इस्तेमाल करता है । स्पष्ट कीजिए ।

Click Here to Download Full PDF

(E-Book) UPSC MAINS PUBLIC ADMINISTRATION SOLVED PAPERS 

Public Administration for UPSC Mains Exams Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit