(Download) UPSC सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा 2015 सामान्य अध्ययन (GS) Paper-4

UPSC CIVIL SEVA AYOG



संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा

(Download) UPSC सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा 2015 सामान्य अध्ययन (GS) Paper-4



Exam Name: UPSC IAS Mains General Studies (Paper-4)

Year: 2015

Exam Date: 21-12-2015

SECTION - A

1. (a) ‘पर्यावरणीय नैतिकता’ का क्या अर्थ है? इसका अध्ययन करना किस कारण महत्वपूर्ण है? पर्यावरणीय नैतिकता की दृष्टि से किसी एक पर्यावरणीय मुद्दे पर चर्चा कीजिए।
(b) निम्नलिखित के बीच विभेदन कीजिए।

(i) विधि और नैतिकता
(ii) नैतिक प्रबंधन और नैतिकता का प्रबंधन
(iii) भेदभाव और अधिमानी बरताव
(iv) वैयक्ति नैतिकता औस संव्यावसायिक नैतिकता

2. नैतिक विचारकों/दार्शनिकों के दो अवतरण दिए गए हैं। प्रकाश डालिए कि इनमें से प्रत्येक के, वर्तमान संदर्भ में, आपके लिए क्या मायने हैं:

(a) ‘‘कमजोर कभी माफ नहीं कर सकते; क्षमाशीलता को ताकतवर का ही सहज गुण है।’’
(b) ‘‘हम बच्चे को आसानी से माफ कर सकते हैं, जो अंधेरे से डरता है; जीवन की वास्तविक विडंबना तो तब है जब मनुष्य प्रकाश से डरने लगे हैं।’’

3. (a) ‘‘केवल कानून का अनुपालन काफ़ी नहीं है, लोक सेवक में, अपने कर्तव्यों के प्रभावी पालन करने के लिए, नैतिक मुद्दों पर एक सुविकसित संवेदन-शक्ति का होना भी आवश्यक है।’’ क्या आप सहमत हैं? दो उदाहरणों की सहायता से स्पष्ट कीजिए, जहां (i) कृत्य नैतिकतः सही है, परंतु वैध रूप से सही नहीं है तथा (ii) कृत्स  वैध रूप से सही है, परंतु नैतिकतः सही नहीं है।

(b) विश्वसनीयता और सहन-शक्ति से सदगुण लोक सेवा में किस प्रकार प्रदर्शित होते है? उदाहरणों के साथ स्पष्ट कीजिए।

4. (a) ‘‘सामाजिक मूल्य, आर्थिक मूल्यों की अपेक्षा अधिक महत्वपूर्ण हैं।’’

(b) हाल में हुई कुछ प्रगतियां, जैसे कि सूचना का अधिकार (आर.टी.आई.) अधिनियम, मीडिया और न्यायिक सक्रियता इत्यादि, सरकार के कार्यों में पहले से अधिक पारदर्शिता और जवाबदेही लाने में सहायक साबित हो रही हैं। फिर भी, यह भी देखा जा रहा है कि कभी-कभर इन साधनों का दुरूपयोग किया जाता है। एक अन्य नकारात्मक प्रभाव यह है कि अधिकारीगण अब शीघ्र निर्णय लेने से डरते हैं। इस स्थिति का विस्तारपूर्वक विश्लेषण कीजिए और सुझाइए की इस द्विभाजन का हल किस प्रकार निकाला जा सकता है। सुझाइए कि इन नकारात्मक प्रभावों को किस प्रकार न्यूनतमीकृत किया जा सकता है।

5. लोक सेवकों की अपने कार्य के प्रति प्रदर्शित दो अलग-अलग प्रकारों की अभिवृतियों की पहचान अधिकारी तंत्रीय अभिवृति और लोकतांत्रिक अभिवृति के रूप में की गई है।

(a) इन दो पदों के बीच विभेदन कीजिए और उनके गुणों-अवगुणों को बताइए।
(b) अपने देश का तेजी से विकास की दृष्टि से बेहतर प्रशासन के निर्माण के लिए क्या दोनों में संतुलन स्थापित करना संभव है?

6. आज हम देखते हैं कि आचार संहिताओं के निर्धारण, सतर्कता सेलों / आयोगों की स्थापना, आर.टी.आई, सक्रिय मीडिया और विधिक यांत्रिकत्वों के प्रबलन जैसे विभिन्न उपायों के बावजूद भ्रष्टचारपूर्ण कर्म नियंत्रण के अधीन नहीं आ रहे हैं।

(a) इन उपयों की प्रभावशीलता का औचित्य बताते हुए मूल्यांकन कीजिए।
(b) इस खतरे का मुकाबला करने के लिए और अधिक प्रभावी रणनीतियां सुझाइए।

7. अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर, अधिकांश राष्ट्रों के बीच द्विपक्षीय संबंध, अन्य राष्ट्रो के हितों के सम्मान किए बिना स्वयं के राष्ट्रीय हिल की प्रोन्नति करने की नीति के द्वारा नियंत्रित होते हैं। इससे राष्ट्रों के बीच द्वंद और तनाव उत्पन्न होते हैं। ऐसे तनावों के समाधान में नैतिक विचार किस प्रकार सहायक हो सकते हैं? विशिष्ट उदाहरणों के साथ चर्चा कीजिए।

8. लोक सेवकों के समक्ष ‘हित संघर्ष (कन्फ्लिक्ट आफ इन्टरेस्ट)’ के मुद्दो का आ जाना संभव होता है। आप ‘हित संघर्ष’ पद से क्या समझते हैं और यह लोक सेवकों के द्वारा निर्णयन में किस प्रकार अभिव्यक्त होता है। यदि आपके सामने हित संघर्ष की स्थिति पैदा हो जाए, तो आप उसका हल किस प्रकार निकालेंगे। उदाहरणों के साथ सपष्ट कीजिए।

SECTION - B

9. एक नीजि कंपनी दक्षता, पारदर्शिता और कर्मचारी कल्याण के लिए विख्यात हैं। यद्यपि कंपनी का मालिक का नीजि व्यक्ति है, तथापि उसका एक सहकारिता वाला आचरण है जहां कर्मचारी स्वामित्व की भावना रखते हैं। कंपनी में लगभग 700 कार्मिक नियुक्त है और उन्होंने स्वेच्छापूर्वक संघ न बनाने का निर्णय लिया है।अचानक एक दिन सुबह एक राजनीतिक पार्टी के 40 आदमी जबरदस्ती फैक्ट्री में नौकरी मांगने लगे। उन्होंने प्रबंधन और कर्मचारियों को धमकियां और गालियां भी दीं। कर्मचारियों का मनोबल गिरा। यह स्पष्ट था कि जो लोग जबरदस्ती घुस आए थे, वे कंपनी के वेतन-पत्रक में होना चाहते थे और साथ ही साथ पार्टी के स्वयंसेवक/सदस्य बने रहना चाहते थे।
कंपनी ईमानदारी के उच्च मानकों को बनाए रखती है और सिविल प्रशासन, जिसमें कानून प्रवर्तन अभिकरण भी शामिल है, का कोई अनुग्रह नहीं करती। इस प्रकार के प्रसंग सार्वजनिक क्षेत्रक में भी घटते हैं।

(a) मान लीजिए कि आप कंपनी के मुख्य कर्मचारी अधिकारी (सी.इ.ओ.) है। आप उपद्रवी भीड़ के गेट के अंदर जबरन घुस आने और परिसर के भीतर धना देने की तारीख को प्रचंड स्थिति के निष्प्रभावन के लिए क्या करेंगे।
(b) इस मामले में चर्चित मुद्दे का दीर्घकालीन समाधान क्या हो सकता है?
(c) प्रत्येक समाधान/कार्रवाई का, जिसको आप सुझाएंगे, आप पर (सी.ई.ओत्र के तौर पर), कर्मचारियों पर और कर्मचारियों के निष्पादन पर सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। अपने द्वारा सुझाई गई कार्रवाइयों में से प्रत्येक के परिणामों का विश्लेषण कीजिए।

10. आप एक पंचायत के सरपंच हैं। आपके क्षेत्र मंे सरकार द्वारा चलाया जा रहा एक प्राइमरी स्कूल है। स्कूल में उपस्थित हाने वाले बच्चों को दिवस-मध्य भोजन (मिड-डे मील) दिया जाता है। हेडमास्टर ने अब भोजन तैयार करने के लिए एक नाया रसोइया नियुक्त कर दिया है। परंतु जब यह पता चला कि रसोइया दलित समुदाय का है, उच्च जातियों के बच्चों में से लगभग आधों को उनके मां-बात भाजन करने की इजाजत नहीं देते हैं। फलस्वरूप स्कूल में बच्चों की उपस्थिति तेजी से घट गई। इसके परिणामस्वरूप दिवस-मध्य भोजन की योजना को समाप्त करने और उसके बाद अध्यापन स्टाफ को हटाने और बाद में स्कूल को बंद कर देने की संभावना पैदा हो गई।

(a) इस संघर्ष पर काबू पाने और सही एवं सुखद वातावरण बनाने की कुछ साध्य रणनीतियों पर चर्चा कीजिए।
(b) ऐस परिवर्तनों को स्वीकार करने के लिए सकारात्मक सामाजिक सुखद वातावरण बनाने हेतु विभिन्न सामाजिक खंडों और अभिकरणों के क्या कर्तव्य होने चाहिए।

11. एक प्रमुख भेषजिक कंपनी की अनुसंधान एवं विकास मंे कार्यरत वैज्ञानिक ने खोजा कि कंपनी की सर्वाधिक बिक्री होने वाली पशुचिकित्सकीय दवाईयों में से एक दवाई ठ में वर्तमान में असाध्य लिवर रोग, जो जनजातिये क्षेत्रों में फैला हुआ है, का इलाज करने की संभावना है। परंतु मानवों के लिए उपर्युक्त रूपांतर का विकास करने के लिए बहुत अनुसंधान और विकास की जरूरत थी, जिसमें 50 करोड़ रूपये तक का खर्च का सकता था। इसकी संभावना कम थी कि कंपनी अनी लागत को वसूल कर पाएगी क्योंकि रोग केवल निर्धनताग्रस्त क्षेत्र में फैला हुआ था, जिसका बाज़ार बहुत थोड़ा था।यदि आप सी. ई0 ओ. हाते तो -

(a) जिन विभिन्न कार्रवाइयों को आप कर सकते थे, उनकी पहचान कीजिए;
(b) अपनी प्रत्येक कार्रवाई के पक्ष-विपक्ष का मूल्यांकन कीजिए।

12. एक आपदा-प्रवण राज्य है, जिसमें अक्सर भूस्खलन, दावानल, मेघ विस्फोट, आकस्मिक बाढ़ और भूकंप आदि आते रहते हैं। इनमें से कुछ मौसमी हैं और अक्सर अननुमेय हैं। आपदा का परिणाम हमेशा अप्रत्याशित होता है। एक मौसम के दौरान, एक मेंघ विस्फोट के कारण विनाशकारी बाढ़ और भूस्खलन हुए जिनसे अत्यधिक दुर्घटनाएं हुई। सड़को, पुलों और विद्युत उत्पादी यूनिटों जैसी बुनियादी संरचना को बृहत् क्षति पहुंची। इसके फलस्वरूप 100000 से ज्यादा तीर्थयात्री, पर्यटक और अन्य स्थानीय निवासी मार्गों और स्थानों पर फंस गए। जिम्मेदारी के आपके क्षेत्र में फंसे हुए लोगों में वरिष्ट नागरिक, अस्पतालों में मरीज, महिलाएं और बच्चे, पदयात्री, पर्यटक, शासक पार्टी के प्रादेशिक अध्यक्ष अपने परिवार सहित, पड़ोसी राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव और जेल में कैदी शामिल थे।
 

(i) राज्य के एक सिविल सेवा अधिकारी के तौर पर आपका आदेश क्या होगा जिसमें आप इन लोगों को बचाएंगे और क्यों? अपने उत्तर के पक्ष मंे तर्क दीजिए।

13. आप एक विशेष विभाग में जिला प्रशासन के शीर्षाधिकारी हैं। आपका वरिष्ट अधिकारी आपको राज्य मुख्यालय से फोन करता है औश्र आपको कहता है कि रामपुर गांव में एक भूखंड पर स्कूल के लिए एक भवन का निर्माण किया जाना है। दौरे की समयावली बना दी जाती है जिसके दौरान वह मुख्य इंजीनियर और वरिष्ट वास्तुकार के साथ स्थल का दौरा करेगा। वह चाहता है कि आप उससे संबंधित सभी कागज़ातों की जांच कर लें औश्र सुनिश्चित कर लें कि दौरे की व्यवस्था उचित रूप से की गई है। आप उस फाइल को जांचते हैं, जो आपके विभाग में कार्यभार संभालने से पूर्व की है। भूखंड को स्थानीय पंचायत से, नाममात्र की लागत पर, उपार्जित किया गया था और कागजा़त दर्शाते है कि जिन तीन प्राधिकारियों को भूखंड की उपयुक्ता का प्रमाणपत्रा फाइल में उपलब्ध नहीं है। आप जैसा कि फाइल पर कहा गया है कि तब आप देखते हैं कि उल्लेख के अधीन भूखंड ठाकुरगढ़ कीले का एक भाग है औश्र कि दीवारें, परकोटे आदि उसके आर-पार बिछे हुए हैं। किला मुख्य गांव से काफी दूर है, इसलिए वहां पर स्कूल, बच्चों के लिए गंभीर असुविधा होगा, परंतु गांव के नज़दीक के क्षेत्र के विस्तार का एक बड़ आवासिय परिसर में परिवर्तित होने की संभावना है। किले में वर्तमान भूखंड पर विकास प्रभार
अत्यधिक होंगे और विरासत स्थल के प्रश्न की ओर ध्यान नहीं दिया गया है। परंतु भूखंड के अधिग्रहण के समय सरपंच आपकेक
पूर्वाधिकारी का एक रिश्तेदार था। समस्त कार्य-संपादन कुछ निहित स्वार्थ के साथ किया गया प्रतीत होता है।

(i) आप वरिष्ट अधिकारी के दौरे की प्रतीक्षा कर सकते हैं और उसको निर्णय करने देते हैं।
(ii) आप लिखित रूप में या फोन पर उसकी सलाह ले सकते हैं।
(iii) आप अपने पूर्वाधिकारी/सहकर्मियों से परामर्ष कर सकते हैं और उकसे बाद क्या करना है, इस बात का फैसला कर सकते है।
(iv) आप मालून कर सकते हैं कि क्या एवज़ में कोई दूसरा भूखंड प्राप्त किया जा सकता है और फिर एक सर्वसमावेशी लिखित रिपोर्ट भेज सकते हैं। क्या अप कोई अन्य विकल्प उचित तर्कों के साथ सुझा सकते हैं?

14. हाल में आपको एक ज़िला विकास अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया है। उसके बाद जल्दी ही आपने पाया कि आपके जिले के ग्रामीण इलाकों में लड़कियों को स्कूल भेजन के मुद्दे पर काफी तनाव है।

गाँव के बड़े महसूस करते हैं कि अने समस्याएं पैदा हो गई है क्योंकि लड़कियों को पढ़ाया जा रहा है और वे घर के सुरक्षित वातावरण के बाहर कदम रख रही हैं। उनका विचार यह है कि लड़कियों की न्यूनतम शिक्षा के साथ जल्दी से शादी कर दी जानी चाहिए। शिक्षा के बाद लड़कियाँ नौकरी के लिए भी स्पद्र्धा कर रही हैं, जो परंपरा से लड़कों का अनन्य क्षेत्र रहा है, और पुरूषों में बेरोजगारी में वृद्धि कर रही है।

युवा पीढ़ी महसूस करती है कि वर्तमान युग में, लड़कियों को शिक्षा और रोजगार तथा जीवन-निर्वाह के अन्य साधनों के समान अवसर प्राप्त होने चाहिए। समस्त इलाका वयोवृद्धों और युवाओं के बीच तथा उससे आगे दोनों पीढ़ियों में स्त्री-पुरूषों के बीच विभाजित है। आपको पता चलता है कि पंचायत या अन्य स्थानीय निकायों में या व्यस्त चैराहों पर भी, इस मुद्दे पर गरमागरम वाद-विवाद हो रहा है।

एक दिन आपको सूचना मिलती है कि एक अप्रिय घटना हुई है। कुछ लड़कियों के साथ छेड़खानी की गई जब वे स्कूलों के रास्ते में थी। इस घटना के फलस्वरूप कई सामाजिक समूहों के बीच झगड़े हुए और कानून तथा व्यवस्था की समस्या पैदा हो गई। गरमागरम वाद-विवाद के बाद बड़े-बूढ़ो ने लड़कियों को स्कूल जाने की अनुमति न देने और जो परिवार उनके हुक्म का पालन नहीं करते हैं, ऐसे सभी परिवारों का सामाजिक बहिष्कार करने का संयुक्त निर्णय ले लिया।

(a) लड़कियों की शिक्षा में व्यवधान डाले बिना, लड़कियों की सुरक्षा को सुरक्षित करने के लिए आप क्या कदम उठाएंगे?
(b) पीढ़ियों के बीच संबंधों में समरसता सुनिश्चित करने के लिए आप गांव के वयोवृद्धों की पितृतत्रात्मक अभिवृति का किस प्रकार प्रबंधन का और ढालने का कार्य करेंगे?

Click Here to Download PDF

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit

<< Go Back to Main Page

For Study Materials Call Us at +91 8800734161 (MON-SAT 11AM-7PM)