(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा लोक प्रशासन Paper-1 - 2019

UPSC CIVIL SEVA AYOG


संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2019 लोक प्रशासन (Paper-1)


Exam Name: UPSC IAS Mains PUBLIC ADMINISTRATION (लोक प्रशासन) (Paper-1)
Marks: 250
Time Allowed: 3 Hours.

खण्ड 'A'

Q1. निम्नलिखित में से प्रत्येक का लगभग 150 शब्दों में उत्तर दीजिए :

(a) "लोक प्रशासन का निरंतर पुनः अविष्कार किया जा रहा है, क्योकि यह प्रसंगाश्रित है|" विस्तार से स्पष्ट कीजिए |
(b) "ब्यूरो विकृति संगठनों में सक्षमता को बदनाम करती है|" व्याख्या कीजिए |
(c) "यदि कभी लोक प्रशासन का विज्ञान होगा तो निश्तित रूप से उसे मानव व्यवहार की समझ पर आधारित होना आवश्यक होगा |" व्याख्या कीजिए |
(d) "चेस्टर बरनार्ड ने 'दी फंकशंस ऑफ़ दी एक्जीक्यूटिव' में संगठन के 'सामाजिक' को समाविष्ट किया था | इस सन्दर्भ में स्पष्ट कीजिए कि कार्यपालक से किस प्रकार, प्रबंधक की तुलना में, बहुत अधिक बड़ी भूमिका निभाने की अपेक्षा की जा सकती है|"
(e) "प्रत्यायोजित विधान कार्यपालिका के हाथ में, उसकी उपयोगिता के बावजूद एक रणनीतिक साधन बन गया है |" टिप्पणी कीजिए |

Q2. (a) "शासन सरकार की सभी बीमारियों का न तो एक प्रतिमान है और न ही सरकार की सभी विकृतियों की सर्वरोगहर औषध है | जब सार्वजानिक सेवाओं को प्रदान करने वाली अन्य विधियों के असफल होने की स्थिति में, यह एक अधिक उपयोगी उपागम हो सकता है |" समालोचनापुर्वक मुल्यांकन कीजिए|
(b) 'सुशासन' की संकल्पना के प्रवेश के साथ, लोक प्रशासन के शास्त्र ने अपने राजकीय चरित्र को झाड़ दिया है | व्याख्या कीजिए |
(c) क्या नव लोक प्रबंधन लोक तांत्रिक राज्य-व्यवस्था को प्रोन्नति करने में असफल रहा है ? व्यक्ति के, एक नागरिक के रूप में और एक ग्राहक के रूप में सन्दर्भों में, विश्लेषण कीजिए|

Q3. (a) "वैश्वीकरण ने कार्पोरेट शक्ति संरचना को सुरक्षित रखने एवं लाभ पंहुचाने के लिए, प्रशासनिक राज्य का निर्माण किया है |" चर्चा कीजिए की किस प्रकार बहुराष्ट्रीय निगम समकालीन युग में सरकार और लोक प्रशासन को प्रभावित करते हैं?
(b) "लाल बत्ती और हरी बत्ती थियोरियां प्रशासनिक विधि की भूमिका के बारे में विपरीत उपागम प्रदान करती हैं |" प्रशासनिक विधि के उद्देश्यों को प्राप्त करने में दोनों में से कौन सी थियोरी प्रभावी होगी ? अपनी पसंद को सही ठहराईए|
(c) "विनियामक शासन प्रणालियों का आगमन मध्यस्थ राज्य की समाप्ति को सूचित करता है |" टिप्पणी कीजिए |

Q4. (a) संगठन की आकस्मिकता थियोरी 'बाहृा फिट' एवं 'आतंरिक फिट' की अन्योन्य क्रिया पर आधारित है | चर्चा कीजिए|
(b) मेरी पार्कर फोलेट ने सरकारी तंत्र की संघटना को समझने की राह के दौरान, कारोबार और उधम में आधारित मूल्यों का पता लगाया | टिप्पणी कीजिए |
(c) "मीडिया, चतुर्थ संपदा श्रृंखलित स्थिति में है |" सरकारी जवाबदेही के संदर्भ में, इस कथन का परिक्षण कीजिए|

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit

खण्ड 'B'

Q5.निम्नलिखित में से प्रत्येक का लगभग 150 शब्दों में उत्तर दीजिए :

(a) संविदात्मकता नवउदारवादी ताकतों की एक पसंदीदा नीति बन गई है परन्तु यह विवाद के अपने हिस्से के बिना नहीं है | तर्क दीजिए |
(b) संभ्रांत चरित्र और पश्चिम केन्द्रित अभिविन्यास को त्यागने में विफलता के कारण, तुलनात्मक लोक प्रशासन के पतन की स्थिति बन गई है | व्याख्या कीजिए |
(c) "सार्वजानिक नीति निर्माण में 'अधिकतम सामाजिक लाभ एक आकर्षक लक्ष्य है, जो व्यवहार में कभी-कभार पाया जाता है| चर्चा कीजिए |
(d) सुचना का एक संकीर्ण दृष्टिकोण, संगठनों में प्रबंधन सुचना प्रणाली (एम आई एस) के सफल कार्यान्वयन के रास्ते में अड़चन पैदा करता है| विश्लेषण कीजिए |
(e) क्या ई-शासन के फलस्वरूप वि-अधिकारी तंत्रिकरण और विकेंद्रिकरण हुआ है? अधिकारी तंत्रीय निष्क्रियता पर इसके प्रभाव का आकलन कीजिए|

Q6. (a) "विकास की गतिकता एक दुविधा द्वारा चिह्नित है : विकास की संकल्पना में एक अन्तर्निहित सहभागी अभिविन्यास होता है लेकिन विकास की
क्रिया अन्तर्निहित रूप से बहिष्कारवादी बनी रही है |" व्याख्या कीजिए |
(b) निष्पादन मूल्यांकन की एक अधिक प्रभावी प्रणाली में, व्यक्तिनिष्ठ तत्वों को स्वीकार किया जाना चाहिए और उसको वस्तुनिष्ठ कसौटियों के प्रति कम
आसक्त होना चाहिए | विस्तार से समझाइए|
(c) क्या विलियम न्स्कैनन का 'बजट अधिकतमीकरण माडल' आज भी प्रासंगिक है? तर्क दीजिए |

Q7. (a) निष्पादन मापन एक उभरता हुआ मुद्दा बना हुआ है, लेकिन यह अनन्य रूप से धन के उपयोग के अनुवीक्षण और आकलन तक सीमित कर दिया गया है| इस कथन के प्रकाश में, सार्वजनिक क्षेत्रक संगठनों का मूल्यांकन करने के लिए निष्पादन मापन के विभिन्न अवित्तीय प्राचलों पर चर्चा कीजिए|
(
b) प्रशासनिक नैतिकता के आदेशक आवश्यक रूप से सरकारी पदधारियों के तर्क कि "मैं केवल आदेशों का पालन कर रहा था" का प्रतिकारक हैं| व्याख्या कीजिए |
(
c) उत्तर-उदारीकरण काल के कर सुधारों में, परिवर्तन के प्रमुख क्षेत्रों पर चर्चा कीजिए| इस संदर्भ में प्रत्यक्ष कर सुधार के महत्ब को आप किस प्रकार उचित सिद्ध करते हैं?

Q8. (a) सामजिक असमानता और स्त्री-पुरुष असमानता के द्वारा चिन्हित समाज में, स्वयं सहायता समूहों का सीमांत भूमिका निभाना अवश्यंभावी है| क्या आप सहमत हैं? अपने उत्तर के पक्ष में कारण बताएं|
(
b) उत्पादकता पर बढ़ते हुए ज़ोर दिए जाने के युग में कार्य अध्ययन, प्रशासकों के लिए आगे की राह दिखाता है| इस कथन के प्रकाश में, कार्य अध्ययन की सकारात्मक विशेषताओं की पहचान कीजिए|
(
c) योग्यता आधारित, निष्पक्ष और वस्तुनिष्ठ सिविल सेवा की अनुपस्थिति में, एक अधिक पक्षपात पूर्ण और भ्रष्ट सरकार का उदय होगा | क्या यह कथन न्यायसंगत है? कारण बताईये |

Click Here to Download Full PDF

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit