(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा कृषि Paper-1 - 2020

UPSC CIVIL SEVA AYOG

संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (Download) UPSC IAS Mains Exam 2020 कृषि (Paper-1)

खण्ड ‘A’

1. निम्नलिखित प्रत्येक का 150 शब्दों में वर्णन कीजिए : 

1.(a) जुताई क्या है ? शून्य जुताई का भारतीय कृषि में महत्त्व क्यों बढ़ रहा है ? 

1.(b) भारत में धान फसल की पराली (फसल अवशेष) के स्वस्थाने (इन-सीटू) व बहिःस्थाने (एक्स-सीटू) प्रबन्धन का वर्णन कीजिये । 

1.(c) फसल उत्पादन पर मौसम के विभिन्न तत्त्वों के प्रभावों को उचित उदाहरणों सहित लिखिये । 

1.(d) भारत में कृषि-वानिकी की आवश्यकता एवं संभावनाओं को लिखिये । 

1.(e) भारत में प्रसार कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण हेतु संस्थागत व्यवस्थाएं और क्रियाविधि क्या क्या हैं ? 

2.(a) निम्नलिखित में अन्तर स्पष्ट कीजिए : 

2.(a)(i) फर्टीगेशन एवं हर्बीगेशन 

2.(a)(ii) कृषि-वानिकी एवं घास-विज्ञान (एग्रोस्टोलाजी) 

2.(a)(iii) सहकारी समितियाँ एवं गैर सरकारी संगठन 

2.(a)(iv) शुष्क कृषि एवं सिंचित कृषि 

2.(b) "कृषक (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) मूल्य आश्वासन पर समझौता एवं फार्म सेवा अधिनियम-2020" का छोटे व मझौले किसानों पर पड़ने वाले प्रभावों को सूचीबद्ध कर उनका विवरण दीजिए।

2.(c) 'एल-नीनो प्रभाव' की व्याख्या कीजिए । भारतीय कृषि पर इसके प्रभावों एवं कारणों को लिखिये। 

3.(a) भारत में तिलहन एवं दलहन फसलों की कम उत्पादकता के क्या मुख्य कारण हैं ? देश में तिलहन फसलों के उत्पादन एवं उत्पादकता को बढ़ाने हेतु रणनीतियां सुझाए ।

3.(b) देश में गाजर घास के बढ़ते खतरों के कारणों का विवरण दीजिये । खरपतवारों के प्रबंधन के लिए एकीकृत विधियों को उपयुक्त उदाहरणों सहित लिखिये । 

3.(c) आकस्मिक फसल योजना क्या है ? यह शुष्क कृषि में कैसे सहायक है ?

4. (a) लघु एवं सीमान्त कृषकों व कृषि श्रमिकों हेतु उपयुक्त प्रशिक्षण विधियों का विवरण दीजिये । भारतीय कृषि के विकास में स्व-सहायता समूहों के योगदान का वर्णन कीजिये ।

4. (b) भारत में जल-संचयन (वाटर हार्वेस्टिंग) के साथ साथ जल-संचयन की विभिन्न विधियों को परिभाषित करें । देश में वर्षा जल-संचयन को बढ़ाने हेतु सरकारी पहलों को लिखिये ।

4. (c) पर्यावरणीय प्रदूषण का वर्णन करें । पर्यावरणीय प्रदूषण के असर को कम करने में वनरोपण की भूमिका को लिखिए।

खण्ड 'B'

5. निम्नलिखित प्रत्येक का लगभग 150 शब्दों में वर्णन कीजिए :

5. (a) जल उपयोग दक्षता और जल उत्पादकता को परिभाषित करें । अधिक एवं कम जल उपयोग दक्षता वाली फसलों को सूचीबद्ध कीजिये ।

5. (b) भारत में कृषि विपणन के संस्थागत ढांचे का विवरण दीजिये ।

5. (c) भारत में किसान प्राय अपने सामाजिक एवं आर्थिक पहलुओं और उपलब्ध संसाधनो के आधार पर फसलों एवं उनकी किस्मों का चुनाव करते हैं। समालोचनात्मक टिप्पणी कीजिये ।

5. (d) खेती की विविधीकृत प्रणाली क्या है ? यह प्रणाली किस प्रकार से भारत के लघु एवं सीमांत कृषकों के लिए लाभदायक है ? |

5. (e) एकीकृत पोषक प्रबन्धन INM क्या है ? भारत में कृषकों के स्तर पर INM को अभ्यास में लाने में क्या सीमाएं हैं ?

6. (a) फसलों के लिये सिंचाई-सारणी क्या है ? विभिन्न क्षेत्रों एवं फसलों के लिये सिंचाई-सारणी निर्धारित करते समय किन-किन महत्त्वपूर्ण कारकों को ध्यान में रखा जाता है ।

6. (b) प्रसार कार्यक्रमों का मूल्यांकन करने की विधियों को सूचीबद्ध कर विवरण दें। प्रसार कार्यक्रमों में शैक्षिक दृष्टिकोण अपनाने से किस प्रकार के गुणात्मक परिवर्तन प्राप्त किए जा सकते हैं, वर्णन करें ।

6. (c) परिशुद्ध कृषि एवं संरक्षण कृषि का वर्णन करें।

7. (a) फसल-खरपतवार प्रतियोगिता को परिभाषित करें। फसल-खरपतवार प्रतियोगिता को प्रभावित करने वाले कारकों का विवरण दें। शाकनाशकों की दक्षता को प्रभावित करने वाले कारकों का ब्यौरा दें।

7. (b) समस्यात्मक मृदा क्या है ? मृदा कैसे समस्यात्मक मृदा में परिवर्तित होती है ? लवणीय एवं क्षारीय मृदाओं के सुधार हेतु विभिन्न विधियों की व्याख्या करें ।

7. (c) फार्म बजट बनाना क्या है ? फार्म बजट बनाने के विभिन्न प्रकारों का वर्णन करें ।

8. (a) उत्तर भारतीय कृषि में धान-गेहूँ सस्यावर्तन (क्राप रोटेशन) बहत सामान्य है। सस्यावर्तन के सिद्धान्तों के अनुसार सस्यावर्तन के लाभों और हानियों का विवेचनात्मक वर्णन करें ।

8. (b) गन्ने की उत्पादन प्रौद्योगिकियों को निम्नलिखित शीर्षकों के आधार पर वर्णन करें : 

(i) उन्नत किस्मे

(ii) बुआई की विधियाँ एवं बीज दर

(iii) उर्वरक एवं सिंचाई प्रबन्धन

(iv) अन्तः सस्य क्रियाएं 

(v) पादप संरक्षण 

8. (c) मृदा उर्वरता के सिद्धान्तों का वर्णन करें । मृदा उर्वरता बढ़ाने में जैव-उर्वरकों के योगदान का उल्लेख करे । 

Click Here to Download PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 11 YEARS SOLVED PAPERS PDF

DOWNLOAD UPSC MAINS HISTORY 10 Years Categorised PAPERS

Study Noted for UPSC MAINS HISTORY Optional

UPSC सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री

UPSC GS PRE Cum MAINS (HINDI Combo) Study Kit