(Getting Started) ग्रामीण पृष्ठभूमि के छात्र आई.ए.एस. की तैयारी कैसे करें ?


ग्रामीण पृष्ठभूमि के छात्र आई.ए.एस. की तैयारी कैसे करें ?


सिविल सेवा परीक्षा देश की प्रतिष्ठित परीक्षा है । इस परीक्षा के द्वारा आई.ए.एस ,आई.पी.एस, आई.एफ.एस तथा अन्य केंद्रीय सेवा के लिए चयन किया जाता है ।देश के लाखों युवा इस परीक्षा में शामिल होते है । बहुत से छात्र तैयारी के दिल्ली जैसे बड़े शहर में जाते हैं ,जहाँ अच्छे कोचिंग संस्थान तथा अन्य बेहतर सुविधाये उपलब्ध हैं । परन्तु ग्रामीण क्षेत्र के बहुत से ऐसे छात्र है जो दिल्ली जैसे बड़े शहर में तैयारी हेतु जाने में असमर्थ हैं । इस आर्टिकल में आईएस एग्जाम पोर्टल का प्रयास है कि ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों कर लिए एक बेहतर दिशा निर्देश उपलब्ध करा सके , ताकि वे उपलब्ध सिमित संसाधन का बेहतर उपयोग कर सके ।

ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों के लिए उम्मीद की किरण

ग्रामीण क्षेत्र में सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को इस बात से बिलकुल भी निराश नहीं होना चाहिए कि उनके तैयारी के लिए उचित संसाधन नहीं है । अपने आत्मविश्वास को बनाए रखते हुए तैयारी करनी चाहिए । यह सही है कि दिल्ली या दूसरे बड़े शहरों से सिविल सेवा में चयन का अनुपात ज्यादा है । लेकिन इसका मतलब यह नहीं हुआ कि ग्रामीण क्षेत्र से चयन नहीं होता है । गंभीर छात्रों का ग्रामीण क्षेत्र से पहले भी सिविल सेवा में चयन होता रहा है और वर्तमान में भी हो रहा है । जरुरत बस गंभीर अध्ययन, उचित रणनीति और उस पर अमल करने की है ।

ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों के लिए उपलब्ध संसाधन

देश में सूचना क्रांति होने के बाद आज ग्रामीण और दूर-दराज के क्षेत्र में भी इंटरनेट की सुलभता हो गयी है । ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों को इंटरनेट का बेहतर प्रयोग करना चाहिए । इस तकनीक के द्वारा अभ्यर्थी समसामयिकी ,देश विदेश की घटनाओं की नवीनतम जानकारी से लाभांवित हो सकता है । साथ ही आज वेबसाइट पर आई.ए.एस के लिए ऑनलाइन कोचिंग भी उपलब्ध हैं जहाँ बहुत कम फ़ीस में ऑनलाइन कोचिंग की सुविधा उपलब्ध है ।

मोबाइल का प्रयोग आज बहुत से छात्र करते है । मोबाइल पर इंटरनेट की सुविधा भी बहुत कम मूल्य में उपलब्ध है । इस तकनीक का प्रयोग भी छात्र समाचार पढ़ने,आवश्यक सूचना की जानकारी आदि के लिए कर सकते है। ग्रामीण क्षेत्र के छात्र को अपने आस पास के क्षेत्र में स्थित कॉलेज के पुस्तकालय का बेहतर प्रयोग कर सकते हैं । आमतौर पर पुस्तकालयों में पढ़ने का अच्छा माहौल होता है ,जहाँ छात्र सिविल सेवा परीक्षा की प्रकृति को देखते हुए गंभीर अध्ययन कर सकता है। छात्र को अपनी जानकारी और विश्लेषणात्मक क्षमता को बढ़ाने के लिए रेडियो पर बीबीसी का समाचार बुलेटिन अवश्य सुनना चाहिए । यह बहुत ही सस्ता और आसानी से उपलब्ध होने वाला संसाधन है ।

सिविल सेवा परीक्षा में समसामयिकी आधारित प्रश्नों की संख्या को देखते हुए को रोज समाचार पत्र का अध्ययन करना चाहिए । अगर समाचार पत्र आसानी से नहीं उपलब्ध है तो समाचार पत्रों के ऑनलाइन संस्करण को पढ़ा जा सकता है । समाचार पत्र कैसे पढ़े के लिए यहाँ क्लिक करें

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

हार्ड कॉपी में सी-सैट (CSAT) अध्ययन सामाग्री के लिए यहां क्लिक करें

सामान्य अध्ययन प्रारंभिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन कोचिंग (पेपर - 1 Paper - 1)

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

सही दृष्टिकोण

  • ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों को सबसे पहले सिविल सेवा परीक्षा के पाठ्यक्रम का अवलोकन करना चाहिए । उसके बाद विश्वसनीय अध्ययन सामग्री से अध्ययन करना चाहिए। अध्ययन सामग्री हमारे दिल्ली स्थित कोचिंग संस्थान से भी मंगवायी जा सकती है ।
  • छात्र यदि ऑनलाइन कोचिंग करने भी असमर्थ है तो उसे निराश होने की आवश्यकता नहीं है । ऐसे छात्रों को पत्राचार पाठ्यक्रम का लाभ उठाना चाहिए । यूपीएससी पोर्टल के द्वारा भी ऑनलाइन पत्राचार पाठ्यक्रम एवं प्रिंट कॉपी पत्राचार पाठ्यक्रम चलाये जाते है । इसके द्वारा पूरे भारत में हज़ारों छात्र लाभान्वित हुए हैं ।
  • तैयारी के दौरान ग्रामीण छात्रों को मार्गदर्शन संबंधी समस्या सबसे ज्यादा होती है । उचित मार्गदर्शन के आभाव में सही तैयारी भी नहीं हो पाती है और समय और ऊर्जा दोनों की बर्बादी होती है । परीक्षा हेतु मार्गदर्शन के लिए छात्रों को अपने किसी सीनियर से संपर्क करना चाहिए । साथ ही किसी कोचिंग संस्थान से संपर्क में रहना बेहतर होगा ।

छात्रों को अध्ययन की शुरुआत कठिन किताबों के स्थान पर सरल किताबो से करनी चाहिए । जैसे किसी भी विषय की पढ़ाई की शुरुआत NCERT या NIOS की किताबो से करनी चाहिए । उस विषय सम्बंधित आधारभूत समझ विकसित करने के बाद सम्बंधित विषय के विश्वसनीय किताब का अध्ययन करना चाहिए। यह रणनीति परीक्षा के लिय सहायक होगा ।


एक्सप्रेस पॉइंट

  • ग्रामीण पृष्टभूमि के छात्रों को कभी भी अपने आप को किसी अन्य शहरी प्रतियोगी से कम नहीं आंकना चाहिए । अपने आत्मविश्वास और गंभीर अध्यन के बल पर ग्रामीण पृष्टभूमि के छात्र भी इस परीक्षा में सफल हो सकते हैं ।

  • तैयारी के दौरान हमेशा उचित अध्ययन सामग्री का अध्ययन करना चाहिए । क्योंकि ऐसे अध्ययन सामग्री को पढ़ना जिनकी परीक्षा के लिए कोई उपयोगिता नहीं है , उससे समय और ऊर्जा दोनों नष्ट होंगे ।

Related Article:

(Getting Started) IAS Preparation for Rural/Remote Areas Students

समसामयिकी के लिए THE GIST और WEEKLY CURRENT AFFAIRS उपयोगी है |

आप किसी भी सहायता व मार्गदर्शन के लिए हमे संपर्क कर सकते हैं।

आईएस एग्जाम पोर्टल हिन्दी टीम

© IASEXAMPORTAL.COM

आईएएस परीक्षा के लिए अधिक महत्वपूर्ण लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

हार्ड कॉपी में सी-सैट (CSAT) अध्ययन सामाग्री के लिए यहां क्लिक करें

सामान्य अध्ययन प्रारंभिक परीक्षा के लिए ऑनलाइन कोचिंग (पेपर - 1 Paper - 1)

आईएस एवं सिविल सेवा की अन्य अध्ययन सामग्री के लिए आईएस एग्जाम पोर्टल-हिंदी पर पधारें

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

Disclaimer: iasexamportal.com संघ लोक सेवा आयोग(UPSC) के साथ संबद्ध नहीं है, संघ लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए www.upsc.gov.in पर क्लिक करें |