(आई. ए. एस. प्लैनर) भारतीय राजस्व सेवा क्या है ?

https://iasexamportal.com/images/upsc.JPG

अखिल भारतीय सेवा

इस सेवा में भर्ती संघ लोक सेवा आयोग द्वारा की जाती है,भारतीय प्रशासनिक सेवा भारतीय पुलिस सेवा एवं भारतीय वन सेवा, अखिल भारतीय सेवा कही  जाती है।जबकि अन्य सेवाओ को (जैसे-भारतीय राजस्व सेना,सूचना सेवा) केंद्रीय सेवा कहा जाता है।

अखिल भारतीय सेवा की भर्ती एव प्रशिक्षण संघ  सरकार द्वारा की जाती है।एव यह संघ तथा राज्यों दोनों जगह पर अपनी सेवाएँ  देते है। अधिकारियों को काडर  दिए जाते है,जिसके मुताबिक वो विभिन्न राज्यों में अपनी सेवाए देते है।

24 राज्यों का अपना काडर   है लेकिन कुछ राज्यों के संयुक्त काडर  भी हैं, असम, मेघालय, मणिपुर, त्रिपुरा, मिज़ोरम, अरुणाचल प्रदेश, गोवा एव केंद्र शासित प्रदेशो आदि।

भारतीय प्रशसनिक सेवा-सभी नागरिक सेवाओ में भारतीय प्रशासनिक सर्वोच्च स्थान रखती है, लगभग 90 रिक्तियों में से हर वर्ष 50 या 60 लोगो को ही (जो सफल घोषित किये जाते है)यह सेवा चाहे राज्य में हो या केंद्र में संपूर्ण प्रशासन की धुरी होती है।

शुरआत में अनुमंडल और जिलो में अपनी सेवाएँ देने के बाद यह राज्यों सचिवालय,विभागीय (राज्यों में) सचिव की भूमिका निभाते है। केंद्र में इनकी प्रतिनियुक्ति भी होती है,जहाँ यह मत्रिमंडल सचिव (देश का वरिष्ट नौकरशाह ) के पद पर भी पहुचते है।

जहाँ तक इनके कार्यो का सवाल है तो यह लिखित से ज्यादा अलिखित है,सरकारी नीतियों का क्रियान्वयन, कानून प्रशासन, प्राक्रतिक आपदा में फंडो का वितरण, प्रशासनिक समेंव्य आदि अनेको कार्य एवं आई ए एस के द्वारा संपादित किये जाते है !

Printed Study Material for UPSC IAS Exams

Online Coaching for IAS PRELIMS Exam

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिये यहां क्लिक करें

" />

भारतीय राजस्व सेवा क्या है ?

भारतीय राजस्व सेवा,केंद्रीय सेवाओ में से एक है।यह सेवा (या इसके अधिकारी)

वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन कार्य करते है।जो केंद्र सरकार के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर संग्रहण के लिए ज़िम्मेदार होता है।भारतीय राजस्व सेवा की दो शाखाएँ  हैं ---

1.सीमा शुल्क एवं उत्पाद शुल्क तथा आयकर(EXCISE DUTY, CUSTOM AND REVENUE DEPARTMENT )इन दोनों शाखाओ पर दो वैधानिक संस्थाओं केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा  शुल्क (CBEC)तथा केंद्रीय प्रत्यक्ष  कर बोर्ड (CBDT)द्वारा नियंत्रण एवं निर्देशन किया जाता है!

भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी सहायक आयुक्त(ASSISTANT COMMISSIONER ) के पद से अपने सेवा की शुरुआत  करते है,एवं सामान्यतः  वे मुख्य  आयुक्त (CHIEF COMMISSIONER)के पद तक पहुचतेहैं ।इस सेवा के सबसे वरिष्ट सदस्य केंद्रीय प्रत्यक्ष कर (CBDT),केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड,सीमा उत्पाद एवं सेवा कर अपील न्यायाधिकरण एवं आयकर अपील  न्यायाधिकरण के प्रमुख के पद पर पुहंचते है।आई आर एस(INDIAN   REVENभारतीय राजस्व सेवा,केंद्रीय सेवाओ में से एक है।यह सेवा(या इसके अधिकारी)

वित्त मंत्रालय के राजस्व  विभाग के अधीन कार्य करते है।जो केंद्र सरकार के प्रत्यक्ष  और अप्रत्यक्ष कर संग्रहण के लिए ज़िम्मेदार होता है।UE SERVICE) अधिकारियों को राष्ट्रीय  प्रत्यक्ष कर बोर्ड अकादमी,नागपुर में प्रशिक्षण दिया जाता है।

 

Printed Study Material for UPSC IAS Exams

Online Coaching for IAS PRELIMS Exam

 

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिये यहां क्लिक करें

GET DAILY NEWSLETTER for UPSC Exams

DONT FORGET TO CHECK AND CONFIRM YOUR EMAIL LINK.