(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (मनोविज्ञान) Paper-1- 2017


संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा
(Download) UPSC IAS Mains Exam Paper - 2017 : मनोविज्ञान (Paper - 1)


मनोविज्ञान
(प्रश्न पत्र - I)

निर्धारित समय : तीन घंटे

अधिकतम अंक : 250

प्रश्न-पत्र सम्बन्धी विशेष अनुदेश

कृपया प्रश्नों के उत्तर देने से पूर्व निम्नलिखित प्रत्येक अनुदेश को ध्यानपूर्वक पढ़े :

इसमें आठ (8) प्रश्न हैं जो दो खण्डों में विभाजित हैं तथा हिन्दी और अंग्रेज़ी दोनों में छपे हैं ।

परीक्षार्थी को कुल पाँच प्रश्नों के उत्तर देने हैं।

प्रश्न संख्या 1 और 5 अनिवार्य हैं तथा बाकी में प्रत्येक खण्ड से कम-से-कम एक प्रश्न चुनकर किन्हीं तीन प्रश्नों के उत्तर दीजिए । प्रत्येक प्रश्न/भाग के अंक उसके सामने दिए गए हैं ।

प्रश्नों के उत्तर उसी प्राधिकृत माध्यम में लिखे जाने चाहिए जिसका उल्लेख आपके प्रवेश-पत्र में किया गया है, और इस माध्यम का स्पष्ट उल्लेख प्रश्न-सह-उत्तर (क्यू.सी.ए.) पुस्तिका के मुख-पृष्ठ पर निर्दिष्ट स्थान पर किया जाना चाहिए । प्राधिकृत माध्यम के अतिरिक्त अन्य किसी माध्यम में लिखे गए उत्तर पर कोई अंक नहीं मिलेंगे।

प्रश्नों में शब्द सीमा, जहाँ विनिर्दिष्ट है, का अनुसरण किया जाना चाहिए ।

जहाँ आवश्यक हो, आरेख / चित्र उत्तर के लिए दिए गए स्थान में ही दर्शाइए ।

प्रश्नों के उत्तरों की गणना क्रमानुसार की जाएगी । यदि काटा नहीं हो, तो प्रश्न के उत्तर की गणना की जाएगी चाहे वह उत्तर अंशतः दिया गया हो । प्रश्न-सह-उत्तर पुस्तिका में खाली छोड़ा हुआ पृष्ठ या उसके अंश को स्पष्ट रूप से काटा जाना चाहिए ।

खण्ड - A

Q1.(a) निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर लगभग 150 शब्दों में दीजिए :

(a) वर्णन कीजिए कि आपने किसी सामाजिक समस्या का समाधान निकालने के लिए मनोविज्ञान का इस्तेमाल किस प्रकार किया था ।
(b) निषेधात्मक प्रबलीकरण और दंड के बीच अंतर कीजिए । क्या आपके विचार में दंड व्यवहार का आशोधन करने का एक प्रभावी तरीका है ?
(c) एक अध्ययन में, एक कॉलेज में भर्ती किए गए छात्रों की संख्या और हिंसा के बीच बहुत अधिक सहसंबंध पाया गया । अनुसंधान परिणाम की व्याख्या कीजिए ।
(d) क्या आप सोचते हैं कि अवसीम संदेश वास्तव में अभिवृत्तियों अथवा व्यवहार में महत्वपूर्ण परिवर्तनला सकते हैं ? अनुसंधान साक्ष्य प्रस्तुत कीजिए।
(e) मनोविज्ञान, व्यवहार का वैज्ञानिक अध्ययन है । मूल्यांकन कीजिए ।

Q2.(a) हम क्यों भूल जाते हैं ? आघातोत्तर और अभिघातपूर्व स्मृतिलोप के बीच विभेदन कीजिए।
(b) ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए 'फ़ोकस समूह परिचर्या’ का आप किस प्रकार उपयोग कर सकते हैं. ?
(c) एक तीन-वर्ष के बालक को शौचालय का प्रशिक्षण देने के लिए, आप क्रियाप्रसूत अनुकूलन तकनीक का किस प्रकार अनुप्रयोग करेंगे ?

Q3.(a) हम जो भी हैं, जीनों के कारण । विवेचन कीजिए।
(b) यह सिद्ध करने के लिए कि शिक्षण की कोई विशेष विधि सर्वोत्तम परिणाम देती है, आप कौन से अनुसंधान अभिकल्प का अनुप्रयोग करेंगे ? वर्णन कीजिए ।
(c) हम विश्व का तीन-आयामों में किस प्रकार प्रत्यक्षण करने में सक्षम हैं, जबकि हमारी आँखें केवल दो-आयामी छवियों का ही संवेदन करने में सक्षम हैं ?

Q4. (a) साक्षात्कार का एक आंकड़ा संग्रह विधि के रूप में मूल्यांकन कीजिए।
(b) कोडन में अर्थपूर्णता एवं संवेगात्मक भाव प्रबोधन की भूमिका की व्याख्या कीजिए। कोडन विनिर्दिष्टता सिद्धांत के निहितार्थों की विवेचना कीजिए।
(c) स्मृति के विभिन्न स्तरों पर, सूचना प्रक्रमण में अन्तरों को समझाइये । पुनः स्मरण सूचना के प्रारंभिक प्रक्रमण से किस प्रकार प्रभावित होता है ?

खण्ड-B

Q5. निम्नलिखित प्रत्येक प्रश्न का उत्तर लगभग 150 शब्दों में दीजिए :

(a) सर्जनात्मक लोगों में सामान्यतः उच्च बुद्धि लब्धि (आई. क्यू.) स्कोर होते हैं लेकिन ज़रूरी नहीं है कि उच्चतम आई. क्यू. स्कोर वाले ही सबसे अधिक सर्जनात्मक लोग होते हैं । व्याख्या कीजिए।
(b) नोम चोम्स्की के रचनांतरणपरक व्याकरण (ट्रांस्फ़ोरमेशनल ग्रामर) की थियोरी का समालोचनात्मक मूल्यांकन कीजिए।
(c) औषधि व्यसन केवल एक अपव्यनुकूली व्यवहार है । अन्य व्यवहारों की तरह, इसे भी सरलता से बदला जा सकता है । विवेचन कीजिए ।
(d) आर.ई.एम. निद्रा में विरोधाभासी क्या है ? निद्रा की विभिन्न अवस्थाओं की अवधि में व्यक्ति कितना सक्रिय होता है ?
(e) समस्या समाधान के लिए प्रयुक्त किए जाने वाले विभिन्न प्रकार के तर्कना प्रक्रमों की उनकी सामर्थों और परिसीमाओं के साथ, व्याख्या कीजिए ।

Q6. (a) गार्डनर की थियोरी के अनुसार, व्यक्तियों का श्रेणीकरण करने हेतु कोई एक सामान्य बुद्धि प्रकार नहीं होता है । स्पष्ट कीजिए ।
(b) एक युवक ने एक दृष्टिहीन महिला की सड़क पार करने में सहायता की । उसने अपनी क्रिया की व्याख्या करते हुए कहा कि उसकी ऐसे लोगों के प्रति सकारात्मक अभिवृत्ति है । क्या उसकी अभिवृत्तिने उसके व्यवहार को निर्धारित किया था. अथवा कि उसके व्यवहार ने उसकी अभिवृत्ति को निर्धारित किया था ? विवेचन कीजिए।
(c) भाषा विकास में क्रांतिक अवधियों के महत्व की विवेचना कीजिए । द्विभाषावाद और संज्ञानात्मक विकास का किन-किन तरीकों में संबंध हैं ?

Q7. (a) एक सफल उद्यमी होने के लिए व्यक्ति में कौन सी आवश्यकताएं अधिक होनी चाहिए ? इसको मैसलो के आवश्यकता सोपान के आधार पर स्पष्ट कीजिए।
(b) क्या हम प्रक्षेपी और वस्तुनिष्ठ परीक्षणों के द्वारा व्यक्तित्व को मापने में न्याय कर सकते हैं ? विवेचन कीजिए।
(c) क्या कारण है कि कुछ लोग उन लोगों के प्रति आक्रामक व्यवहार करते हैं, जो सामाजिक प्रतिमानों का विरोध करते हैं ? इस प्रकार के आक्रामक व्यवहारों को कैसे बदला जा सकता है ?

Q8. (a) क्या हम व्यक्ति के शैक्षिक निष्पादन का निर्धारण केवल आई.क्यू. स्कोर के आधार पर कर सकते हैं ? विवेचन कीजिए।
(b) किसी व्यक्ति के स्व-पराजयी व्यवहार को हम मानवतावादी परिप्रेक्ष्य से किस प्रकार समझाते हैं ?
(c) लोग स्थितिगत कारकों की अपेक्षा व्यक्तिगत विषेशकों पर अधिक बल देते हैं। इस कथन का मूल्यांकन कीजिए।

Click Here to Download Full Paper I

Printed Study Material for IAS Mains General Studies

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री (GS Mains Study Kit)

<< Go Back to Main Page