(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (प्राणि-विज्ञान) Paper-1- 2017


संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा
(Download) UPSC IAS Mains Exam Paper - 2017 : प्राणि-विज्ञान (Paper - 1)


प्राणि-विज्ञान
(प्रश्न पत्र - I)

निर्धारित समय : तीन घंटे

अधिकतम अंक : 250

प्रश्न-पत्र सम्बन्धी विशेष अनुदेश

कृपया प्रश्नों के उत्तर देने से पूर्व निम्नलिखित प्रत्येक अनुदेश को ध्यानपूर्वक पढ़े :

इसमें आठ (8) प्रश्न हैं जो दो खण्डों में विभाजित हैं तथा हिन्दी और अंग्रेज़ी दोनों में छपे हैं ।

परीक्षार्थी को कुल पाँच प्रश्नों के उत्तर देने हैं।

प्रश्न संख्या 1 और 5 अनिवार्य हैं तथा बाकी में प्रत्येक खण्ड से कम-से-कम एक प्रश्न चुनकर किन्हीं तीन प्रश्नों के उत्तर दीजिए । प्रत्येक प्रश्न/भाग के अंक उसके सामने दिए गए हैं ।

प्रश्नों के उत्तर उसी प्राधिकृत माध्यम में लिखे जाने चाहिए जिसका उल्लेख आपके प्रवेश-पत्र में किया गया है, और इस माध्यम का स्पष्ट उल्लेख प्रश्न-सह-उत्तर (क्यू.सी.ए.) पुस्तिका के मुख-पृष्ठ पर निर्दिष्ट स्थान पर किया जाना चाहिए । प्राधिकृत माध्यम के अतिरिक्त अन्य किसी माध्यम में लिखे गए उत्तर पर कोई अंक नहीं मिलेंगे।

प्रश्नों में शब्द सीमा, जहाँ विनिर्दिष्ट है, का अनुसरण किया जाना चाहिए ।

जहाँ आवश्यक हो, आरेख / चित्र उत्तर के लिए दिए गए स्थान में ही दर्शाइए ।

प्रश्नों के उत्तरों की गणना क्रमानुसार की जाएगी । यदि काटा नहीं हो, तो प्रश्न के उत्तर की गणना की जाएगी चाहे वह उत्तर अंशतः दिया गया हो । प्रश्न-सह-उत्तर पुस्तिका में खाली छोड़ा हुआ पृष्ठ या उसके अंश को स्पष्ट रूप से काटा जाना चाहिए ।

खण्ड - A

Q1.(a) निम्नलिखित प्रत्येक का लगभग 150 शब्दों में उत्तर दीजिए :

(a) मुख्य एवं गौण संघों में विभेद कीजिए । किसी एक गौण संघ के प्रमुख लक्षणों का वर्णन कीजिए ।
(b) कुछ मत्स्य वायु ग्रहण कर सकती हैं। विस्तृत वर्णन कीजिए।
(c) कीटों में कायांतरण के प्रकार एवं उनके हॉर्मोनीय नियमन की व्याख्या कीजिए ।
(d) अंड निक्षेपण करने वाले एवं कोष्ठधारी स्तनधारियों के सामान्य लक्षण एवं उदाहरण दीजिए ।
(e) चतुष्पादों के उद्भव की विवेचना कीजिए।

Q2. (a) क्रस्टेशिया में पाए जाने वाले लार्वा-रूपों का उदाहरणों तथा चित्रों सहित विवरण दीजिए । लार्यों के महत्त्व पर भी टिप्पणी लिखिए ।
(b) नाइडेरिया के प्रतिरक्षा अंग, दंशकोरक की संरचना दीजिए तथा उसकी क्रियाविधि का वर्णन भी कीजिए।
(c) बाइलेटेरिया (द्विपार्श्वक) क्या हैं ? बाइलेटेरिया की उत्पत्ति के सिद्धान्तों की व्याख्या कीजिए ।

Q3. (a) पक्षियों में विभिन्न उड्डयन अनुकूलनों का विस्तृत विवरण दीजिए ।
(b) स्तनधारियों में मिलने वाले दंत-विन्यास के विभिन्न प्रकारों की व्याख्या कीजिए।
(c) मानवों की दृष्टि में तीन नेत्र पटलों (परतों) की भूमिकाओं का वर्णन कीजिए ।

Q4. (a) सरीसृपों, पक्षियों एवं स्तनधारियों में महाधमनी चापों के विकास के संबंध में एक लेखा प्रस्तुत कीजिए।
(b) मोलस्का में श्वसन की विवेचना उपयुक्त उदाहरण देते हुए कीजिए।
(c) बैंकिओस्टोमा के आद्य, अपहासित एवं उन्नत अभिलक्षणों की व्याख्या कीजिए । साथ ही इसकी वर्गीकरणी-स्थिति पर भी टिप्पणी कीजिए।

खण्ड-B

Q5. निम्नलिखित प्रत्येक का लगभग 150 शब्दों में उत्तर दीजिए :

(a) ‘एफ.आई.एस.एच. (फिश) : सिद्धान्त, कार्यविधि एवं अनुप्रयोग का वर्णन कीजिए ।
(b) संक्रमिकाएँ क्या हैं ? क्या आर्द्रभूमि संक्रमिकाएँ हैं ? तर्कसंगत विवरण दीजिए ।
(c) ऊष्मीय प्रदूषण और उसकी रोकथाम के उपायों की विवेचना कीजिए।
(d) ‘परम्परागत कार्प पालन से संयुक्त कार्प पालन किस प्रकार अधिक लाभदायक है ?
(e) सचेतक (एलार्म) फैलाव में रासायनिक संकेतों की भूमिका की व्याख्या कीजिए।

Q6. (a) सामाजिक जीवन के लाभों का उल्लेख कीजिए । साथ ही प्राइमेट्स में विभिन्न प्रकार के सामाजिक पदानुक्रमों का वर्णन कीजिए।
(b) आनुवंशिक परामर्श एवं जीन चिकित्सा संबंधी संकल्पना तथा उनके महत्त्व की विवेचना कीजिए।
(c) कला विपर्यासी एवं प्रतिदीप्ति सूक्ष्मदर्शिकी के सिद्धान्तों एवं प्राणि-विज्ञान में इनके अनुप्रयोगों के संबंध में लेखा प्रस्तुत कीजिए ।

Q7. (a) जैव सांख्यिकी क्या होती है ? प्राणि-विज्ञान में आँकड़ों के विश्लेषण में सहसंबंध, समाश्रयण एवं एनोवा की भूमिका को स्पष्ट कीजिए ।
(b) पारितंत्र' शब्द का विस्तार कीजिए एवं उदाहरणों सहित इसके संरचनात्मक घटकों की व्याख्या कीजिए । पोषी गतिकी संकल्पना पर टिप्पणी कीजिए।
(c) द्रुत-अपकेन्द्रित्र के सिद्धान्त, प्रकारों और अनुप्रयोगों की व्याख्या कीजिए ।

Q8. (a) अंत:स्थलीय जल संसाधनों के संदर्भ में पर्यावरणीय निम्नीकरण की विवेचना कीजिए । हमारी नदियों, झीलों एवं जलाशयों की जल गुणवत्ता को पुन:स्थापित करने के उपायों का सुझाव दीजिए ।
(b) जैव-विविधता से क्या अभिप्राय है ? संरक्षित क्षेत्र नेटवर्किंग के संदर्भ में उनकी स्थापना, मॉनीटरन एवं प्रबंधन की व्याख्या कीजिए।
(c) द्रुत प्रवाहित जलों में रहने वाले प्राणियों में मिलने वाले अनुकूलनों की व्याख्या कीजिए ।

Click Here to Download Full Paper I

Printed Study Material for IAS Mains General Studies

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री (GS Mains Study Kit)

<< Go Back to Main Page