(Download) संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा (वाणिज्य एवं लेखाविधि) (Paper - 2) - 2017


संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा - मुख्य परीक्षा
(Download) UPSC IAS Mains Exam Paper - 2017 : वाणिज्य एवं लेखाविधि (Paper - 2)


वाणिज्य एवं लेखाविधि
(प्रश्न पत्र - II)

निर्धारित समय : तीन घंटे

अधिकतम अंक : 250

प्रश्न-पत्र सम्बन्धी विशेष अनुदेश

कृपया प्रश्नों के उत्तर देने से पूर्व निम्नलिखित प्रत्येक अनुदेश को ध्यानपूर्वक पढ़े :

इसमें आठ (8) प्रश्न हैं जो दो खण्डों में विभाजित हैं तथा हिन्दी और अंग्रेज़ी दोनों में छपे हैं ।

परीक्षार्थी को कुल पाँच प्रश्नों के उत्तर देने हैं।

प्रश्न संख्या 1 और 5 अनिवार्य हैं तथा बाकी में प्रत्येक खण्ड से कम-से-कम एक प्रश्न चुनकर किन्हीं तीन प्रश्नों के उत्तर दीजिए । प्रत्येक प्रश्न/भाग के अंक उसके सामने दिए गए हैं ।

प्रश्नों के उत्तर उसी प्राधिकृत माध्यम में लिखे जाने चाहिए जिसका उल्लेख आपके प्रवेश-पत्र में किया गया है, और इस माध्यम का स्पष्ट उल्लेख प्रश्न-सह-उत्तर (क्यू.सी.ए.) पुस्तिका के मुख-पृष्ठ पर निर्दिष्ट स्थान पर किया जाना चाहिए । प्राधिकृत माध्यम के अतिरिक्त अन्य किसी माध्यम में लिखे गए उत्तर पर कोई अंक नहीं मिलेंगे।

प्रश्नों में शब्द सीमा, जहाँ विनिर्दिष्ट है, का अनुसरण किया जाना चाहिए ।

जहाँ आवश्यक हो, आरेख / चित्र उत्तर के लिए दिए गए स्थान में ही दर्शाइए ।

प्रश्नों के उत्तरों की गणना क्रमानुसार की जाएगी । यदि काटा नहीं हो, तो प्रश्न के उत्तर की गणना की जाएगी चाहे वह उत्तर अंशतः दिया गया हो । प्रश्न-सह-उत्तर पुस्तिका में खाली छोड़ा हुआ पृष्ठ या उसके अंश को स्पष्ट रूप से काटा जाना चाहिए ।

खण्ड A

Q1. निम्न्लिखित को स्पष्ट कीजिए (प्रत्येक लगभग 150 शब्दो में :)

(a) अपवाद-आधारित प्रबंधन
(b) जवाबदेही का सिद्धान्त
(c) सशक्तीकृत संगठन
(d) विशेषक थियोरी
(e) जनता का मानवद्वेषी कठपुतलीकरण

Q2. (a) “संगठनात्मक थियोरी के आलोचकों का विचार है कि संगठन की आधुनिक थियोरी ‘नई बोतल में पुरानी शराब की तरह है।' इस कथन का परीक्षण कीजिए।
(b) संगठन परिवेश उद्यम की सफलता या असफलता का निर्णय करता है। क्या आप इससे सहमत हैं? अपने उत्तर के समर्थन में तर्क दीजिए।
(c) आभासी संगठन, संगठन की तेजस्विता एवं संवृद्धि पर बल देता है। सविस्तार स्पष्ट कीजिए।

Q3. (a) अभिप्रेरण की थियोरियाँ एक-दूसरे की प्रतियोगी नहीं हैं, उनका एकीकरण करने के लिए उनके परस्पर संबंधों को समझना आवश्यक है। इसके लिए कदमों का सुझाव दीजिए।
(b) “गुणता चक्र संगठन की उत्पादकता पर नितान्त कम या बिलकुल भी नहीं प्रभाव दिखाता है। क्या आप इससे सहमत हैं? इसे अपेक्षाकृत अधिक अनुक्रियाशील और प्रभावी बनाने के लिए एक ढाँचे का सुझाव दीजिए।
(c) “नेतृत्व शून्यता दोधारी तलवार के समान कार्य करती है। इस कथन के क्या निहितार्थ हैं?

Q4. (a) उद्देश्य-आधारित प्रबंधन के तकनीक की व्याख्या कीजिए। इसे अधिक प्रभावी बनाने के लिए सुझाव दीजिए।
(b) प्रबंधन को अपनी नीतियाँ निर्धारित करने में जिन आन्तरिक एवं बाह्य परिवर्तनों को ध्यान में रखना आवश्यक होता है, उनको स्पष्ट कीजिए।
(c) आधुनिक संगठन में सूत्र तथा मंत्रणा प्रकार्य असंबद्ध होते हैं। क्या आप इससे सहमत हैं? टिप्पणी कीजिए।

खण्ड-B

Q5. निम्नलिखित को स्पष्ट कीजिए (प्रत्येक लगभग 150 शब्दों में) :

(a) कार्य-मनोवृत्तपरक विधि ।
(b) 360° प्रतिपुष्टि प्रणाली
(c) योग्यता कोटिनिर्धारण बनाम कार्य कोटिनिर्धारण
(d) हड़ताल बनाम तालाबन्दी
(e) अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (आई० एल० ओ०)

Q6. (a) “यह तथ्य अब सर्वमान्य हो गया है कि दीर्घ अवधि में प्रशिक्षण न देने की लागत, प्रशिक्षण देने की लागत से सदैव अधिक होती है तथा किसी संगठन में प्रशिक्षण क्रियाकलाप जितना अधिक होगा उतना ही उसकी उपयोगिता के विषय में सन्देह कम होगा।'' टिप्पणी कीजिए।
(b) “किसी भी संगठन में हम कार्यों के लिए भुगतान करते हैं न कि मनुष्यों के लिए।'' क्या आप इससे सहमत हैं? उद्योग में कार्य-मूल्यांकन किस प्रकार मानवीय संबंधों को प्रभावित करता है?
(c) कल्पना कीजिए कि मध्य-प्रबंधन में एक रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए आपकी फर्म संगठन से बाहर चली गई है, यद्यपि इसकी घोषित नीति अंदर से ही प्रोन्नति करने की है। एक कर्मचारी ने नीति के आधार पर इस कार्रवाई को चुनौती दी है। इसका क्या उपयुक्त उत्तर हो सकता है?

Q7. (a) “भारतीय मजदूर संघ आन्दोलन अपने स्वयं के विरचन के प्रयोजन को पूरा करने में विफल रहा है।'' इस कथन के प्रकाश में, भारत में मजदूर संघों के प्रकार्यण को सुधारने के लिए एक सुझावात्मक ढाँचे का विकास कीजिए।
(b) एक सन्तोषजनक मजदूरी प्रणाली के क्या अत्यावश्यक तत्त्व होते हैं? मजदूरी अदायगी की विभिन्न विधियों को संक्षेप में स्पष्ट कीजिए और प्रत्येक विधि के गुण-दोषों पर चर्चा कीजिए।
(c) “पारस्परिक विश्वास संगठन में सामूहिक सौदेबाजी के लिए एक मुख्य कुंजी होती है।'' टिप्पणी कीजिए।

Q8. (a) “औद्योगिक लोकतंत्र के साधनों में से एक प्रबंधन में श्रमिक भागीदारी है। इस कथन पर टिप्पणी कीजिए तथा श्रमिक भागीदारी को अधिक प्रासंगिक और प्रभावी बनाने के लिए सुझाव प्रस्तुत कीजिए।
(b) कर्मचारी चयन क्या है? कर्मचारियों के चयन के प्रक्रम में उपयोग किए जा रहे विभिन्न प्रकारों के परीक्षणों को समझाइए।
(c) कारोबारी उद्यमों पर मानव संसाधन बहिर्मोतन (आउटसोर्सिंग) के प्रभाव का परीक्षण कीजिए। इसे अधिक प्रासंगिक और प्रभावी बनाने के लिए उपयुक्त उपाय सुझाइए।

Click Here to Download Full Paper II

Printed Study Material for IAS Mains General Studies

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

सामान्य अध्ययन सिविल सेवा मुख्य परीक्षा अध्ययन सामग्री (GS Mains Study Kit)

<< Go Back to Main Page