user7's blog

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 48

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 48

1. Getting feedbacks from the customers in a part of

(a) Management
(b) Listening
(c) Analysing
(d) Speaking

2. A big readymade clothing firm spent a lot of time listening to young employees and the company is benefiting a lot the reason could be.

(a) Validation of new ideas by youngster.
(b) Activate participation of youngsters.
(c) Listening to youngsters allows top management to sense change almost before it happens.
(d) Help received from youngsters in the from of information.

3. Just Before the starting of the quiz , you found your partner missing, you……

(a) Took the substitute partner.
(b) Did not take part in quiz
(c) Took part in the quiz alone
(d) Got tensed and lustrated.

4. Going on bicycle, you are hit by a speeding car, you.

(a) Start fighting and abusing the car – owner.
(b) Balance your movements, note the car number and Report to the police.
(c) Balance your movements and go away.
(d) Rush to the car – owner and start him beating.

5. While going is a boat, you found that boat had developed a leak or hale when water started coming in you.

(a) Jump out of the boat to save life
(b) Jump out of the boat and you known how to swim
(c) Play the leak with a cloth, threw the water by bucket and started boating fast to reach your destination
(d) Start screaming for help

Printed Study Material for UPSC CSAT Paper-2 Exam - 2018

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 05 February 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 05 February 2018

1. निम्नलिखित में से कौन सी सेबी द्वारा निपटाए गए शिकायतों में से नहीं हैं:

a) आरबीआई (RBI), आईआरडीए (IRDA), पीएफईडीए (PFEDA), सीसीआई (CCI), एफएमसी (FMC) आदि जैसे नियामक निकायों के दायरे में आ रही शिकायतों के बारे में
b) पेंशन फंड के बारे में शिकायतें
c) जिंसों के बारे में शिकायतें
d) उपरोक्त सभी
e) उपरोक्त में से कोई नहीं

2. निम्नलिखित में से कौन सा किसानों के लिए कल्याणकारी योजनाओं नहीं है?

a) किसान क्रेडिट कार्ड योजना
b) एसएचजी बैंक लिंकेज कार्यक्रम
c) राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना
d) कर्मचारी रेफरल योजना

3. प्रशांत महासागर के बारे में तथ्यों को ध्यान में रखते हुए, किन क्षेत्रों में कोई सबडक्शन क्षेत्र नहीं है I

a) अंटार्कटिक और ऑस्ट्रेलियाई तट
b) अफ्रीकी तट
c) अटलांटिक और अंटार्कटिक तट
d) अटलांटिक और ऑस्ट्रेलियाई तट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-33

IAS EXAM

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-33

1. मेंटल हेल्थकेयर बिल-2016 के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें -

(i) इस बिल में आत्महत्या के प्रयास को अपराध की श्रेणी से हटाने का प्रावधान किया है।
(ii) महिलायों को सामुदायिक आधार पर ही विशेष उपचार का प्रावधान किया है
(iii) बिल के मुताबिक, मानसिक रोग से पीड़ित बच्चे को उसकी माँ से तब तक अलग नहीं किया जाएगा, जब तक बहुत जरुरी ना हो।

(a) i एवं ii
(b) ii एवं iii
(c) i एवं iii
(d) कोई नहीं

2. निम्नलिखित में से कौन से देशों में भारत शुद्ध विद्युत निर्यात करता है ?

(a) नेपाल, बांग्लादेश, म्यांमार
(b) नेपाल, बांग्लादेश, पाकिस्तान
(c) नेपाल, बांग्लादेश, चीन
(d) चीन, जापान, बांग्लादेश,

3. नाटो के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें -

(i) नार्थ एटलांटिक ट्रीटी आर्गेनाईजेशन (नाटो) एक सैन्य गठबंधन है, इसकी स्थापना 4 अप्रैल 1949 को उत्तर अटलांटिक  संधि पर हस्ताक्षर के साथ हुई थी।
(ii) नाटो का मुख्यालय ब्रुसेल्स में है।
(iii) लार्ड इश्मे पहले नाटो महासचिव बने थे।

(a) i एवं ii
(b) ii एवं iii
(c) i एवं iii
(d) i, ii एवं iii

4. 101 एकीकृत कोल्ड चेन परियोजनाओं के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें -

(i) कोल्ड चेन का मूल्य संवर्धन अवसंरचना योजना में उघमियों को 20 करोड़ तक की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जाती है।
(ii) इस योजना से संबंधित राज्यों में न केवल खाद्य प्रसंस्करण अवसंरचना के विकास को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि किसानों को भी उनके उत्पाद की बेहतर कीमत उपलब्ध होगी।
(iii) इस परियोजना से 2.76 लाख मीट्रिक टन कोल्ड स्टोरेज  ध्नियंत्रण वायुमंडल / फ्रोजन भंडारों की अतिरिक्त क्षमता, 115 मीट्रिक टन प्रति घंटे की व्यक्तिगत त्वरित फ्रीजिंग क्षमता, 56 लाख लीटर प्रति बैच ब्लास्ट फ्रीजिंग और 629 रेफ्रिजरेटेड  इंसुलेटेड वाहनों की क्षमता उपलब्ध होगी।

(a) i एवं ii
(b) ii एवं iii
(c) i एवं iii
(d) उपरोक्त सभी

5. रविचंद्रन अश्विन को इनमें से कौन से पुरस्कार से सम्मानित किया गया है ?

(a) क्रिकेटर आफ द ईयर
(c) अर्जुन पुरस्कार
(b) सर गारफिल्ड सोबर्स ट्राफी
(d) द्रोणाचार्य पुरस्कार

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 04 February 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 04 February 2018

Q.1 निम्नलिखित में से कौन सा राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति, 2017 के संबंध में सही है / है?

1. 2020 तक पाँच साल के बच्चे की मृत्यु दर में कमी लाना।
2. मातृ मृत्यु दर वर्तमान स्तर से 2020 तक 100 हो गई है
3. शिशु मृत्यु दर 2020 तक 28 हो जाएगी।

a) 1,2 केवल
b) 2,3 केवल
c) 2 केवल
d) 1,3 केवल

Q.2 निम्न में से कौन सा राष्ट्रीय उद्यान एक अस्थायी जैव विविधता का समर्थन करने वाले फ्लोटिंग वनस्पति के लिए जाना जाता है?

a) भितरकणिका राष्ट्रीय उद्यान
b) केइबुल लामाजो राष्ट्रीय उद्यान
c) केओलादेव घाना राष्ट्रीय उद्यान
d) सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान

Q.3 निम्नलिखित में से कौन सा राष्ट्रों के राष्ट्रमंडल के संबंध में सही है?

1. ये सभी देश पूर्व में ब्रिटिश साम्राज्य की उपनिवेश थे।
2. इन देशों के पास ब्रिटेन का समर्थन करने के लिए एक कानूनी दायित्व है, जब यह बाहरी युद्ध का सामना कर रहा है।
3. नेपाल राष्ट्रों के राष्ट्रमंडल का हिस्सा है।

a) 1,2
b) 2,3
c) 1,3
d) उपरोक्त में से कोई नहीं

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-47

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-47

1. एक अधिकारी को एक महत्वपूर्ण कार्य को दिया जाता है उसे चाहिए कि

(a) उस कार्य को टीम कार्य पद्वति से करे
(b) अपनी योजना को क्रमानुसार बढ़ाए
(c) अपने पद का प्रयोग उस उद्देश्य को प्राप्त करने में लगाए
(d) अपने अधीनस्था पर दबाव बनाए

2. तुम एक टीम के नेतृत्वकर्ता हो। टीम के सामने हो जाती है तुम्हारी टीम का एक सदस्य उस गलती के बारे मंे तुम्हे रुखे तरीके से बताता है तुम कैसे प्रतिक्रिया व्यक्त करोगे

(a) तुम क्रोधित होगे और उसे डाटोंगे
(b) तुम गलती समझ कर उसे सुधारोगे
(c) तुम उसका मजाक उड़ाओगे
(d) तुम इसे महत्व नही दोगे और विषय बदल दोगे

3. तुमने, अपने पूरे जीवनकाल में किसी के साथ मिलकर कार्य नहीं किया लेकिन जब तुम्हे ऐसा करना पड़ेगा तो तुम क्या करोगे

(a) उसी के साथ कार्य करोगे जो तुम्हारी तरह का होगा
(b) तुम अपने कार्य के स्वाभाव को बिना पूछंे नहीं बतालोगे
(c) खुशनुमा माहौल बनाकर सहयोगी को खुश रखोगे
(d) अपने सहयोगी के साथ औपचारिक संबंध रखोगे

4. कुछ व्यक्ति कभी एक तो कभी दूसरी बातों की आलोचना करते हैैै। निम्न मंे से किस गुण से उन्हे संतुष्ट किया जा सकता जा सकता है

(a) शैक्षिक स्तर
(b) अनुभव
(c) आयु
(d) व्यक्तित्व

5. एक व्यक्ति एक मनोचिकित्सक के पास गया उसकी समस्या यह थी कि कोई बात कहते समय उसे शब्द याद नही आते थे । इसका संभावित कारण हो सकता है

(a) वह मानसिक रूप से मृत हो
(b) याददाश्त में कमी
(c) वह अपना 30 से 40% कार्य मैसेज एवं ई मेल से करता हो
(d) वह बहुत वाचाल न हो

यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए अध्ययन सामग्री UPSC Hindi Study Materials

Online Coaching for UPSC, IAS PRE Exam

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 47

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 47

Passage

Alleviation of rural poverty has been one of the primary objectives of planned development India. Ever since the inception of planning, the policies and the programmes have been designed and redesigned with this aim. The problem of rural poverty was brought into a sharper focus during sixth plan. In seventh plan too emphasized growth with social justice. It was realized that a sustainable strategy of poverty alleviation has to be based on increasing the productive employment opportunities in the process of growth itself. However, to the extent the process of growth by pass some sections of the population; it is necessary for make specific poverty alleviation programmes for generation of accretion minimum level of income of the rural poor. Rural development implies both the economic betterment of the people and greater social transformation increased participation of people in the rural development process, decentralization of planning, better enforcement of land reforms and greater access to credit and input so along way. In providing the rural people with better project for economic development. Improvements in health, education, drinking water, energy supply, sanitation and housing coupled with attitudinal changes also facilitate their social development. Rural poverty is inextricably linked with low rural productivity and unemployment, including under employment. Hence, it is imperative to improve productivity and increase employment in rural areas Moreover, more employment needs to be generated at higher levels of employment at miserably low levels of productivity and income is already a problem of for greater magnitude than unemployment as such. As per currently used methodology in the planning commission, poverty of the year was estimated through a large proportion of the rural population was working. Is was difficult for them to make out a living even at subsistence levels. It is true incidence of rural poverty for time. In terms of absolute numbers of the poor. The decline has been much-less. While this can be attributed to the demographic factor, the fact remains that after 50 years to planned development about 30 to 40 crore are still poor in rural India.

1. Rural poverty is associated with which of the following factors?

(a) Poor effectiveness of productive efforts
(b) Better sanitation and housing facilities
(c) Dearth of employment opportunities
(d) Lack of technical education for the rural youth

2. Which one of the following is not stated in the passage as an important factor for rural development?

(a) Involvement of the rural people in the development process
(b) Better enforcement of land reforms
(c) Greater access to credit
(d) Setting heavy industrial units in the rural areas

3. Which one of the following is relevant to formulation of a specific poverty alleviation programme?

(a) The sharper focus given in the sixth plan
(b) Directives from world band
(c) Creation sections of the population are not covered in the process of growth
(d) None of the above

4. Which one of the following has not been staked to be contributing towards facilitating social development?

(a) health
(b) energy supply
(c) education
(d) political awareness

Passage

Passed all the other course that I took at my university, but I could never pass botany. This was because all botany students need to spend several hours a week in a laboratory cooking through a microscope at plant cells and I could never see through a microscope I never once saw a cell through a microscope.
This used to enrage my instructor, he would wander around the laboratory pleases with the progress all the students. Were making in drawing the involved and, so in told, interesting structure of flower cell, until he came to me . I would just be standing there cannot see anything, I would say,” he would begin patiently enough, explaining how anybody can see through a microscope but he would always end up in fury, claiming that I too could see through a microscope but just pretended that, could not. It takes away from the beauty of flowers anyway. I used to tell “we are not concerned solely with what I may call the mechanics of flowers. “Well”, I’d say, I cant see any thing.
Try it just once again, he’d day, and I would put my eye to the microscope and see nothing at all, except now and again a nebulous milky substance a phenomenon of maladjustment. You were supposes to see vivid, restless clock work of sharply defined plant cells.
“I see what looks like a lot of milk”, I would tell them, he claimed, was the result of my not having adjusted the microscope properly, so he would readjust it for me, or rather, for himself. And I would look again and see milk.

5. The author thinks that he could not pass the Botany examination because:

(a) He did not take any interest in the subject
(b) He was partially blind
(c) He did not like microscope
(d) His teacher was not devoted to job

Printed Study Material for UPSC CSAT Paper-2 Exam - 2018

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 03 February 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 03 February 2018

Q.1 ई-वे (e-WAY) बिल के बारे में निम्न कथनों में से कौन सा /  सत्य है?

(i) यह राज्य और अंतरराज्यीय भीतर माल की आवाजाही पर कर चोरी को ट्रैक करना है।
(ii) 1 फरवरी, 2018 को रोल आउट सेट किया गया।
(iii) उद्देश्य- एक राष्ट्र, एक ई-वे (e-WAY) बिल

a) केवल I
b) केवल I, II
c) केवल II
d) उपरोक्त सभी

Q.2 विदेशी अंशदान (विनियमन) अधिनियम 2010 के अधीन है :-

a) वित्त मंत्रालय
b) विदेश मामलों के मंत्रालय
c) गृह मामलों के मंत्रालय
d) उपरोक्त में से कोई नहीं

Q.3 निम्नलिखित में से कौन से फ्लोटिंग ट्रीटमेंट वेटलैंड के एजेंटों को साफ कर रहे हैं?

a) बुलबुश
b) तुलसी
c) अश्वगंधा
d) उपरोक्त सभी

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-32

IAS EXAM

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-32

1. अनु. 21 के अंतर्गत किसी व्यक्ति को उसकी स्वतंत्रता से वंचित करने के लिए आवश्यक शर्तं हैं।

(i) विधि विधिमान्य होनी चाहिए।
(ii) विधि को प्रक्रिया विहित करनी चाहिए।
(iii) प्रक्रिया न्यायपूर्ण, ऋजु और युक्तियुक्त होनी चाहिए।
(iv) यह आवश्यक नहीं है कि विधि को अनु. 14 व 19 की अपेक्षाओं को भी पूरा करना चाहिए।

(a) (i),(ii) और (iii)
(b) (ii),(iii) और (iv)
(c) (ii) और (iii)
(d) (i),(ii),(iii) और (iv)

2. भारत में संसदीय समितियों की स्थापना निम्नांकित में से किस अनु. के अंतर्गत की जाती है?

(a) अनु. 119
(b) अनु. 120
(c) अनु. 118
(d) अनु. 146

3. किसी राज्य लोक सेवा आयोग के व्यय भारित होंगे-

(a) राज्य के बजट पर ।
(b) राज्य के लोक लेखा पर ।
(c) राज्य की संचित निधि पर ।
(d) भारत की संचित निधि पर ।

4. निम्नलिखित में से भारत के राष्ट्रपति बनने का सही क्रम चुनिए।

(a) एस राधाकृष्णनन, राजेन्द्र प्रसाद जाकिर हुसैन, वी वी गिरि
(b) राजेन्द्र प्रसाद एस राधाकृष्णनन, वी वी गिरि जाकिर हुसैन
(c) राजेन्द्र प्रसाद एस राधाकृष्णनन, जाकिर हुसैन वी वी गिरि
(d) राजेन्द्र प्रसाद जाकिर हुसैन एस राधाकृष्णनन, वी वी गिरि

5. भारत के संविधान को उद्देशिका में निम्नलिखित में कौन सा शब्द नही हैं।

1. समाजवादी
2. धर्मनिरपेक्ष
3. अखण्डता
4. गणराज्य

(a) 1, 2, 3
(b) 2, 3, और 4
(c) 1, 2, और 4
(d) 3 और 4

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-46

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-46

लेखांशः प्रश्नों के लिए निर्देष नीचे दिए गए लेखांश को पढ़े तथा उसके बाद प्रश्नों के उत्तर दे। आपके उत्तर लेंखांश पर ही आधारित होना चाहिए।

आपदा किसी भी देश में आ सकती है। यहाँ तक कि एक सर्वाधिक विकसित देश पर भी। यह सच है कि पहले से तैयारी आपदा के दुष्परिणामों को कम कर सकती है। फिर भी आप नहीं जानते कि आपदा कितनी भंयकर होगी। न ही हम यह जानते है कि आखिर आपदा किसी स्थल विशेष पर ही क्यों आयी। ईश्वर की विद्यमानजापर प्रश्न का कोई औचित्य ही नही है। जैसा कि जाॅब कि समय से चला आ रहा है। लेकिन कुछ ऐसी चीजें है जिनके प्रति मनुष्य सतर्क हो सकता है। हमारे साथ होने वाली अनेक त्रासदियों का कारण हमारे कर्म है। विकास की चाह में हम यह भूल जाते है कि चीजें नियंत्रण से बाहर हो सकती है। वास्तव में, विकास की शक्ति हमे हमारी सीमाओं के प्रति अंधा कर देती है। प्रकृति को वश में करते हुए अपने आप पर गर्व महसूस करते हुए हम महल बनाते है। यह प्रकृति का प्रकोप ही है जो समय-समय पर हमे याद दिलाता है। कि ये महल तो बस रेत के ही है।
नाभकीय शक्ति एक ऐसा ही जोखिम है। हम चाहे जितना इसे एक शांतिपूर्ण साधन के रूप में प्रस्तुत करे, लेकिन यह बार-बार हमें यह याद दिलाती है कि इसकी उत्पति विश्व की सबसे भयंकर त्रासदियों में से एक से हुई थी। हिरोशिमा का दानव दफन नहीं हुआ और फुकुशिमा पर मंडराता रहा। यदि ऐसा जापान जैस विससित देश में हो सकता है। तो उससे कम विकसित देंशों को तो इस हितकारी लगने वाली तकनीक को स्वीकार करने से पूर्व दो या तीन नहीं बल्कि चार बार सोचना चाहिए। इससे सुरक्षा के तरीके जटिल है और परियोजना के पूर्ण रूप में चालू होने से पूर्व इनको विकसित करना चाहिए। चाहे यह थ्री माइल द्वीप हो, चेर्नेबिल हो या फुकुशिमा। ऐसा बहुत कुछ है जिसे विकासशील देशो को नाभकीय सौदो पर विवेकहीन तरीके से हस्ताक्षर करने से पहले सीखना होगा। वैकल्पिक रूप से यह प्रश्न उठाना कि ‘विकास का अर्थ क्या है’ बुरा विचार नहीं है। क्या यह कुछ वैसा की सम्पूर्ण है। जैसे प्रति व्यक्ति बिजली (पावर) की खपत’, यह फिर कोई और आयाम भी है। जिसे हम अपने सिमित दृष्टिकोण के कारण खोज पाने में असफल रहे है। समय आ गया है कि हम अपनी उर्जा को आध्यात्मिक खोजों की ओर भी केन्द्रित करें। भौतिक विज्ञान पढ़ना अच्छा है। किन्तु तत्वमीमांसा पढ़ने में भी कुछ गलत नहीं है।

1. मनुष्य को सतर्क रहना चाहिए

(a) प्रकृति के क्रोध के प्रति
(b) आपदा के प्रति
(c) अपने स्वयं के कर्मो के प्रति
(d) नाभिकिय आपदा के प्रति

2. आज के समय में न्यूक्लियर शक्ति को हितकारी तकनीक क्यों माना गया है।।

(a) क्योंकि यह मानव अथवा प्रकृति के लिए कोई खतरा उत्पन्न नहीं करती।
(b) क्योंकि किसी प्राकृतिक आपदा के समय यह हानिकारक सिद्ध हो सकता है।
(c) क्योंकि यह किसी अन्य प्रकार की उर्जा से सस्ती है।
(d) क्योंकि यह विकासशील देशों में हिरोशिमा या फुकुशिमा जैस विध्वंश का कारण बन सकती है।

3. भौतिक विज्ञान पढ़ना अच्छा है। किन्तु तत्वमीमांसा पढ़ने में भी कुछ गलत नहीं है। का यहाँ अर्थ है

(a) मानव को चाहिए कि वह प्रकृति की कीमत पर विकास की अंधाधुध होड़ पर विचार करे।
(b) मानव को प्रकृति को वश में करने का प्रयास छोड़ना चाहिए।
(c) प्रकृति मानव से उपर है।
(d) मानव प्रकृति से उपर है।

4. विकासशील देशों को नाभकिय सौदा पर हस्ताक्षर करने से पहले दो बार सोचना चाहिए क्योकि

(1) यह विश्व में सर्वाधिक विनाशकारी विश्वास का कारण बन सकता है।
(2) यह विश्व को तृतिय विश्व युद्ध के कगार पर खड़ा कर सकता है।
(3) थ्री माइल द्वीप, चेरनोबिल अथवा फुकुशिमा सभी मानव निर्मित आपदा थे न कि प्रकृति का प्रकोप।
(4) यह विकास के लिए आवश्यक नहीं है।

(a) केवल ;1 तथा ;2
(b) केवल ;2 तथा ;3
(c) केवल ;1 ;2 तथा ;3
(d) 1 ;2 ;3 तथा ;4

5. इस गद्यांश से क्या संदेश मिलता है।

(a) विश्व के सर्वाधिक विकसित देश भी प्रकृतिक आपदा को नहीं रोक सकते।
(b) विकास की अंधी दौड़ में मानव को प्रकृति के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।
(c) पहले से की गई तैयारी आपदाआंे को केवल कम कर सकती है। किन्तु इसे घटित होने से नहीं रोक सकती।
(d) मानव को प्रकृति के साथ रहना सीखना चाहीये।

यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए अध्ययन सामग्री UPSC Hindi Study Materials

Online Coaching for UPSC, IAS PRE Exam

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 02 February 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 02 February 2018

Q.1 निम्न में से कौन सा विश्व शेयर बाजारों पर आधिकारिक तौर पर कारोबार नहीं होने की संभावना है?

a) विदेशी मुद्रा
b) कंपनी के शेयर / शेयर
c) अपमान
d) स्वर्ण

Q.2 एपीएमसी (APMC) के लिए बनाया गया था

a) कृषि क्षेत्र में निजी क्षेत्र के हितों की रक्षा करना
b) किसानों के हितों की रक्षा करें
c) हरी खाद के उत्थान उपयोग के लिए बेहतर सुझाव देने के उपाय
d) कृषि उत्पादन के खरीदारों के हित की रक्षा करना

Q.3 पीएमजेजेबीवाई (PMJJBY) से संबंधित है

a) जीवन बीमा कवर
b) स्वास्थ्य बीमा कवर
c) मातृत्व लाभ
d) बाल शिक्षा बुनियादी ढांचे

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 46

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 46

Passage

In keeping with market expectations and factored in by stock investors, GDP (gross domestic product) growth dipped to 5.3 percent in the second quarter (July September) of 2012-13 from 6.7 per cent in the same quarter during the previous fiscal, mainly owing it dismal performances by the farm and manufacturing sectors.
With the economic growth during the three-month period slipping further from 5.5 per cent in the first quarter of the current fiscal, the scaledown in annual growth projections by various global agencies and think-tanks for the entire year now appears to be more realistic and may turn out to be the lowest pace of GDP expansion . a decade.
While the poor show by the manufacturing sector has been impacting industrial growth severely for the last few months, the pull-down in agriculture during the quarter has led to a much lower GDP growth at 5.4 per cent during the first half (April-September) of 2012-13 as compared to a comparative robust expansion of 7.3 per cent witnessed in the same period a year ago. Despite the slippage, the silver lining in the GDP growth data is that the slowdown appears to be bottoming out as the numbers reveals a slight rise in gross capital formation, showing signs of recovery during the second half of the fiscal year.

1. What does the author imply by ‘silver lining’ in the Passage?

(a) GDP growth data is showing a slowdown.
(b) Pace of GDP expansion is at the bottom in a decade.
(c) Slight rise in gross capital formation.
(d) Growth rate is improving during the second quarter of the fiscal year.

Passage

The discovery of a new gene causing Type 2 diabetes in the Indian population by an entirely Indian cast of researchers has opened up a hitherto unknown and new line of enquiry into the mechanism of the disease. According to a paper published in the December edition of Diabetes, the gene was identified after running through a massive sample size of over 12,500 persons in the Indian subcontinent. “The new gene that was identified is a neuro gene, with no known association with Diabetes. So what is it doing in Type 2 Diabetes?” The principal investigator of the study, Dwaipayan Bharadwaj, said “Among the common variants, this is the major variant in the Indian population. So it certainly has a role to play. My hypothesis is, perhaps, diabetes is more a neurological disorder- it probably explains the temptation to eat when you see a plate of good food in front of you,” Dr. Bharadwaj added. This gene increases the risk of developing Type 2 Diabetes to 1.6 times higher in the Indian population.
The involvement of a neuro gene opens up a spectacularly new area, said Nikhil Tandon, one of the authors, who is a professor of Endocrinology at AIIMS. It facilitates a potentially new line of enquiry into understanding of the mechanism of this disease. Understanding the mechanism will translate to better diagnostics and treatment methods, though that is still in the distant future, he added. The association of this gene with diabetes in the Indian population is higher and stronger than any other gene, the authors explains. The other key point in this study, Dr. Bharadwaj explains, is that it is entirely Indian with a massive sample size. The two groups that were studied included North Indians and Dravidians, the latter sample provided from the Chennai based Madras Diabetes Research Foundation Indian Council for Medical Research Advanced Centre or Genomics of Diabetes.

2. Consider the following statements­

1. A new gene has been discovered by Indian researchers causing type 2 Diabetes.
2. The new gene identified which can be a major variant causing type 2 Diabetes in the Indian population is a neuron gene.

(a) Only (i)
(b) Only (ii)
(c) Both 1 and (ii)
(d) Neither 1 nor (ii)

3. What can be ascertained about the new gene from the passage?

1. It opens up a new dimension of research behind the mechanism of Diabetes.
2. It is more of a neurological disorder among the diabetes patients which causes a temptation to eat good looking food.
3. Among the major variants, this is the common variant among Indian population.

(a) Only 1
(b) Only (ii)
(c) Only 1 and 2
(d) (i), 2 and 3

4. Consider the following statements with reference to the passage­

1. Indian researchers claim that the new gene discovered by them is highly and strongly associated with diabetes among Indians than any other gene.
2. Understanding the mechanism of diabetes on the line of a neuron gene will help in better diagnostics and treatment in coming days.
3. This research is based on Indian population data including Madras Diabetes research foundation data of Dravidians.
4. Over 12,500 persons in the Indian sub­continents were diagnosed with type 2 Diabetes with neuron gene traits.
5. The risk of developing type 2 Diabetes among Indians due to the neuron gene is 1.6 times higher than rest of the world infected with type 2 diabetes.

(a) Only 1, 2 and 3
(b) Only 1 and 3
(c) Only 1, 3 and 4
(d) Only 1, 3 and 5

5. Which of the following statements conveys “ho message of the passage?

(a) Discovery of new gene causing Type 2 Diabetes.
(b) Discovery of new gene causing Type 2 Diabetes among Indian population.
(c) Neuron gene is a new variant of genes causing - Type 2 Diabetes among Indian.
(d) Indian Scientists successfully tracking down Type 2 Diabetes causing neuro gene.

Printed Study Material for UPSC CSAT Paper-2 Exam - 2018

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-31

IAS EXAM

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-31

1. निमांकित कथनों पर विचार करें।

(i) तदर्थ समितियों की स्थापना विशेष उद्देश्यों की पूर्ति के लिए की जाती है, परंतु लोकसभा अधायक्ष की पूर्व अनुमति से उनका कार्य संपन हो जाने के बाद भी वे जारी रखी जा सकती हैं।
(ii) व्यावसायिक सलाहकारी समितियाँ और नियम समितियाँ तदर्थ समितियों के प्रकार हैं।

(a) केवल (i)
(b) केवल (ii)
(c) (i) और (ii) दोनों
(d) न तो (i) न ही (ii)

2. दोहरे दण्ड से संरक्षण की आवश्यक शर्तें है?

(i) व्यक्ति का अभियुक्त होना आवश्यक है।
(ii) अभियोजन या कार्यवाही किसी न्यायालय या न्यायिक अभिकरण के समक्ष हुई हो और वह न्यायिक प्रकृति की रही हो।
(iii) अभियोजन किसी विधि विहित अपराध के संबंध में हो जिसके लिए दण्ड का प्रावधान हो।
(iv) पूर्व की कार्यवाहियों में मुकदमे व सजा के संदर्भ में अभियोग का समान होना।

(a) (i) और (ii)
(b) (i), (ii) और (iii)
(c) (ii), (iii) और (iv)
(d) (i), (ii), (iii) और (iv)

3. निम्नांकित में से कौन सा अनु. संसद के दोनों सदना को अपनी प्रक्रिया व कार्यवाही के आचरण को विहित करने के लिए नियम बनाने का अधिकार प्रदान करता है?

(a) अनु. 117 (b) अनु. 118
(c) अनु. 119 (d) अनु. 121

4. ‘‘मूल अधिकार तथा राज्य के नीति निदेशक तत्व एक दूसरे के पूरक हैं तथा इनमें से किसी एक को महत्व देनें के लिए दूसरे की उपेक्षा नहीं की जा सकती है।’’ सर्वेच्च न्यायालय ने इसे प्रस्तावित किया-

(a) मेनका गांधी वाद में।
(b) मिनर्वा मिल्स बाद में।
(c) गोलकनाथ वाद में।
(d) केशवानंद भारती वाद में।

5. देशीयकरण द्वारा भारतीय नागरिकता-प्राप्ति के लिए पूरी की जाने वाली शर्तें है?

(i) वह किसी ऐसे देश का नागरिक न हो जहाँ भारतीय देशीयकरण द्वारा नागरिक बनने से रोक दिये जाते हो।
(ii) देशीयकरण के प्रमाणपत्र की प्राप्ति के उपरांत उसका भारत में निवास करने या भारत सरकार की नौकरी में रहने का इरादा हो।
(iii) उसे भारतीय संविधान द्वारा मान्य भाषा का सम्यक् ज्ञान हो यह आवश्यक नहीं परतु वह राज्य के प्रति निष्ठा की शपथ ग्रहण करे।
(iv) वह एक अच्छे चरित्र का व्यक्ति हो।
(v) वह देशीयकरण के लिए आवेदन करने की तिथि से पहले 10 माह तक या तो भारत में रहा हो या भारत सरकार की सेवा में रहा हो।

(a) (i), (ii) और (iv)
(b) (i), (ii) और (v)
(c) (ii), (iii) और (iv)
(d) (iii), (iv) और (v)

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-45

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-45

1. निम्नलिखित में से कौन सा कथन गद्यांश के सार को व्यक्त करता है

(a) धीमी विकास दर के लिए मुद्रास्फीति की उच्च दर निश्चित तौर पर एक कारण हैै
(b) धीमी विकास दर के लिए मौद्रिक नीति एक कारण है
(c) छच्। के लिए औद्योगिक समूह मूख्य रूप से जिम्मेदार है
(d) मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने के लिए के मौद्रिक नीति प्रभावी नहीं है।

2. गद्यांश के संदर्भ मे निम्नलिखित कथनों पर ध्यान दं

1. यदि औद्योगिक समूह बैंको के जोखिम निर्धारण की सीमा के भीतर ऋणों का भुगतान करने के सक्षम हो तो ईमानदार ऋण ग्राहकों को कम ब्याज देना होगा।
2. विकास मुद्रास्फीति के मुद्दे पर नीतियाँ पूरी तरह से गतिहीन है जिसके लिए सामूहिक रूप से हम सब जिम्मेदार है।

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) दोनों सही
(d) दोनों गलत

3. गद्यांश के अनुसार आर्थिक विकास का सूधार हो सकता है यदि

(a) उच्च ब्याज दरों को नियंत्रित किया जा सके
(b) प्रभावी मौद्रिक नीति बने
(c) मुद्रास्फीति की दर कम हो
(d) जोखिम प्रबंधन तंत्र के सुधार हो

4. गद्यांश के अनुसार उच्च आर्थिक विकास में क्या बाधाएँ आ सकती है।

1. औद्योगिक समूहों द्वारा बेकं में उत्पन्न अनुत्पादक परिसंपति का डर
2. उच्च ब्याज दरें
3. उच्च मुद्रास्फीति
4. प्रभावहीन मौद्रिक नीति

(a) केवल 1 एवं 2
(b) 2ए 3ए एवं 4
(c) 1, 3, 4
(d) सभी

5. गद्यांश के अनुसार बैंको को अधिक ध्यान देना चाहिए।

(a) अपनी साख प्रबंधन क्षमता पर
(b) अपनी साख मूल्यंाकन प्रणाली
(c) अपने जोखिम प्रबंधन प्रणाली
(d) कृषि, लघु एवं मत्सय उद्योगां एवं खुदरा व्यापार की ऋण आवश्यकताओं पर।

यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए अध्ययन सामग्री UPSC Hindi Study Materials

Online Coaching for UPSC, IAS PRE Exam

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 45

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 45

Passage

For ages, the Indian psyche has been geared to devoting one’s life to the welfare of ‘all’, sarvabhuta hite ratha. It has also focussed not on the individual self but on the entire globe; vasudhaiva kutumbakam was always the objective. The Western world remains unaware of the strength of Indian culture, traditions and beliefs. It has good reason to do so. An accurate perception would have harmed its colonial interests and exploitation of nations for which it was not entitled under any rationale, logic or tradition. This legacy, however, continues in another form. Those influenced by Western philosophy, attitude and approach to life refuse to understand indigenous thought and culture even at this stage. To them, any mention of Indian tradition and culture is a conservative statement. If you think of highlighting Indian contributions to global civilisation, they immediately apprehend that India is going backward in the history. To them, self respect, patriotism and the sense of pride in being an Indian are outdated concepts. The mere mention that spirituality is an important part of educationist anathema to them. After World War II, the victorious Americans realised the futility of war, bombs, destruction and killings. A group of American school teachers planned a book on spirituality in 1945. This was published by the Elementary School Teachers Association of America in 1947. The title is ‘Spirituality in Elementary Schools’. In India, the mere mention of the world ‘Spirituality’ is attributed to political pressure. Recently the Director-General of UNESCO’s International School of Educational Planning, Paris, visited India and was apprised of the proposed curricular changes in school education, which were under discussion. The Director General, a former education minister of Norway, gave details of curriculum renewal in Norway and indicated that in their curriculum for school education prepared in 1997, they have proposed to prepare a ‘spiritual man’ through school education. Even a unitary society like Norway is gearing up for the times when multi-ethnic people would be living there. There would be different religions, and consequently, linguistic and ethnic diversities would emerge. In the Indian context, the focus on spirituality has always been there. The swift pace of educational change is emerging as a prime contributor to the pace of progress of developmental initiatives. The relevance of education will have to be ensured professionally in the context of social, cultural and economic changes. The global acceptance of education for social cohesion and for learning to live together deserves in-depth attention and consideration in the national context. The perpetration of a model of education transplanted by alien rulers, even after five decades of independence, does not reflect positively on indigenous initiatives. Indian education must be rooted in Indian culture. At this juncture, everyone, whether educated, literate or illiterate, realises the significance of education for future generations. Even the weakest are willing to contribute literally everything to educate their children. Such universal acceptance never existed before. Simultaneously, it is necessary that a national consensus emerges on the need for desirable educational changes. This, of course, is in conformity with the stipulations of experts and policy statements as well. The regular revision of the school curriculum is a globally accepted phenomenon and any question of revising the curriculum framework after more than a decade need not give rise to any apprehension in any quarter. Developing nations need peace, harmony and the willingness to work together among its citizens and communities. India sorely needs this as it still has to win the battles against poverty, illiteracy and socio-economic inequalities. Only a total national effort can contribute effectively to these. India’s 50 lakh school teachers can transform future society once they internalise the importance of their role and the tasks assigned to them. The commitment and performance of teachers, which is often projected as a matter of serious concern, can be changed only if public opinion is also transformed by political and religious leaders on the one hand, and social workers, intellectuals, thinkers and educationists, on the other. The role of the media has somewhat been discouraging. Even the national channels find no time to telecast suitable programmes for children and teachers. Commercialisation appears to have overtaken national requirements, which should get top priority, like transforming society through imparting the appropriate type of education, that inculcates values like respect, tolerance and creativity among the youth of this country. The Indian education system need not be bogged down by its of-trumpeted failures. The achievements of the past are considerable. In the last five decades, we have achieved a literacy rate of over 60 per cent. And this has been through indigenous efforts. Undoubtedly, we have much more to achieve but that needs to be done in an environment of optimism and motivation. The entire focus of school education both in and out of the classroom needs to prepare the individual to understand his duties and responsibilities on the one hand and the need to develop the necessary, competence, skills and attitudes to execute them on the other. Future education needs to be geared towards the culture of peace in which India’s diversities, pluralities and multiplicities will be treated as positive assets that contribute to national unity. School programmes, functions, and celebrations can reinforce these initiatives. Every school should have a mission statement. It should attempt to develop capacities and design activities to rediscover the local socio-cultural ethos that would contribute to developing a sense of belonging among children. It is the school education that needs to acknowledge and appropriately internalise among the learners the responsibility for the future and need to respect all life and living beings.

1. India can win battles against socio-economic problems of poverty and illiteracy only by

(a) focussing education to prepare individuals to do their duties and responsibilities
(b) desirable educational changes and fresh programmes for children and teachers
(c) encouraging to build an environment of optimism and motivation
(d) changing the opinions of the social workers and religious leaders

2. What the author means by ‘mission statement’ ?

(a) To base education on spirituality and respect for all living things
(b) That every school should focus on developing the capabilities of the students, creating a sense of belonging
(c) The task undertaken by the school to focus on the harmonious development of the child
(d) That there is the need to develop the competence, skills and attitudes of the children.

Passage

Have you ever come across a painting by Picasso, Mondrian, Miro, or any other modem abstract painter of this century, and found yourself engulfed in a brightly coloured canvas which your senses cannot interpret? Many people would tend to denounce abstractionism as senseless trash. These people are disoriented by Miro’s bright, fanciful creatures and two-dimensional canvases. They click their tongues and shake their heads at Mondrian’s grid works, declaring that the poor guy played too many scrabble games. They silently shake their heads in sympathy for Picasso, whose gruesome, disorted figures must be a reflection of his mental health. Then, standing in front of a work by Charlie Russell, the famous western artist, they’ll declare it a work of God. People feel more comfortable with something they can relate to and understand immediately without too much thought. This is the case with the work of Charlie Russell Being able to recognise the elements in his paintings-trees, horses and cowboys-gives people a safety line to their world of ‘reality’. There are some who would disagree when I say abstract art requires more creativity and artistic talent to produce a good piece than does representational art, but there are many weaknesses in their arguments.
People who look down on abstract art have several major arguments to support their beliefs. They feel that artists turn abstract because they are not capable of the technical drafting skills that appear in a Russell; therefore, such artists create an art form that anyone is capable of understanding and that is less time consuming, and then that you are a good parade it as artistic progress. Secondly, they feel that the purpose of art is to create something of beauty in an orderly, logical composition. Russell’s compositions are balanced and rational; everything sits calmly on the canvas, leaving the viewer satisfied that he has seen all there is to see. The modem abstractionists, on the other hand, seem to compose their pieces irrationally. For example, upon seeing Picasso’s Guernica, a friend of mine asked me, “What’s the point? Finally, many people feel that art should portray the ideal and real. The exactness of detail in Charlie Russell’s work is an example of this. He has been called a great historian because his pieces depict the lifestyle, dress, and events of the times. His subject matter is derived from his own experiences on the trial, and reproduced to the smallest detail.
I agree in part with many of these arguments, and at one time even endorsed them. But now, I believe differently. Firstly, I object to the argument that abstract artists are not capable of drafting. Many abstract artists, such as Picasso, are excellent draftsmen. As his work matured, Picasso become more abstract in order to increase the expressive quality of his work. Guernica was meant as a protest against the bombing of that city by the Germans. To express the terror and suffering of the victims more vividly, he destorted the figures and presented them in a black and white journalistic manner. If he had used representational images and colour, much of the emotional content would have been lost and the piece would not have caused the demand for justice that it did. Secondly, I do not think that a piece must be logical and aesthetically pleasing to be art. The message it conveys to its viewers is more important. It should reflect the ideals and issues of its time and be true to itself, not just a flowery, glossy surface. For example, through his work, Mondrian was trying to present a system of simplicity, logic and rational order. As a result, his pieces did end up looking like a scrabble board. He sees with his eyes. This is the reality he reproduces on canvas. To the abstract artist, reality is what he feels about what his eyes see. This is the reality he interprets on canvas. This can be illustrated by Mondrian’s Trees series. You can actually see the progression from the early recognisable, though abstracted trees, to his final solution, the grid system.
A cycle of abstract and representational art began with the first scratching of prehistoric man. From the abstractions of ancient Egypt to representational, classical Rome, returning to abstractionism in early Christian art and, so on up to the present day, the cycle has been going on. But this day and age may witness its death through the camera. With film, there is no need to produce finely detailed, historical records manually. The camera does this for us more efficiently. May be, representational art would cease to exist. With abstractionism as the victor of the first battle, may be that a different kind of cycle will be touched off. Possibly, some time in the distant future, thousands of years from now, art itself will be physically non-existent. Some artists today believe that once they have planned and constructed a piece in their mind, there is no sense in finishing it with their hands. It has already been done and can never be duplicated.

3. The author argues that many people look down upon abstract art because they feel that

(a) modem abstract art does not portray
(b) abstract artists are unskilled in matters of technical drafting
(c) abstractionists compose irrationally
(d) All of the above

4. According to the author, people feel comfortable with representational art because

(a) they are not engulfed in brightly coloured canvases
(b) they understand the art without putting too much strain on their minds
(c) paintings like Guernica do not have a point
(d) they do not have to click their tongues and shake their heads in sympathy

5. In the author’s opinion, Picasso’s Guernica created a strong demand for justice since

(a) it was a protest against the German bombing of Guernica
(b) it was a mature work of Picasso, painted when the artist’s drafting skills were excellent
(c) picasso managed to express the emotional content well with his abstract depiction
(d) it depict, the terror and sufferings of the victims in a distorted manner

Printed Study Material for UPSC CSAT Paper-2 Exam - 2018

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 01 February 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 01 February 2018

Q.1 एनपीसीआईएल (NPCIL) के बारे में निम्नलिखित कथनों में से कौन सा कथन सत्यहै?

(i) स्वामित्व निगम पूरी तरह से मुंबई सरकार के अधीन है।
(ii) परमाणु बिजली, बिजली पैदा करने के लिए जिम्मेदार
(iii) 2009 में वेस्टिंगहाउस के साथ कोवादस्त, आंध्र प्रदेश में न्यूक्लियर पार्क बनाने के लिए समझौता ज्ञापन

a) केवल I
b) केवल I, II
c) केवल III
d) उपरोक्त सभी।

Q.2 आरकेवीवाई (RKVY) के बारे में निम्नलिखित कथनों में से कौन साकथन सत्य है?

(i) 11 वीं एफआईपी (FIP) के एक हिस्से के रूप में 2007 में शुरू किया।
(ii) एनडीसी (NDC) के तत्वावधान में शुरू किया गया

a) केवल i
b) केवल II
c) दोनों I और II
d) उपरोक्त कोई भी नहीं

Q.3 भोजन पर टैक्स है

a) प्रतिगामी
b) प्रगतिशील
c) आनुपातिक
d) बराबर करना

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-30

New Page 2

IAS EXAM


Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-30


1- ‘ग्रीनपीस’ के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें

1- ग्रीनपीस का तात्पर्य है वातावरण के दोहन का विरोध
2- यह लुप्तप्रायः जानवरों को बचाने तथा इसके संदर्भ में लोगों में जागरुकता पैदा करता है।
3- ग्रीनपीस का लक्ष्य है सभी औद्योगिक विकास में अवधारणा को कम करना।
4- प्रत्यक्ष कार्यवाही, लॉबिंग, अनुसंधान तथा नवाचार में द्वारा जागरूकता उत्पन्न करना।

(a) केवल 1 और 3
(b) केवल 1 और 2
(c) केवल 3
(d) 1, 2 और 4

2- किसी खाद्य श्रृंखला के साथ कोई भौगिक का सान्द्रता बढ़ जाता है, इस स्थिति को कहते हैं

(a) ट्राकसिटी
(b) बायोमैगनिफिकेशन
(c) जेमोबिएटिक
(d) बायोडिक्मपोजिशन्

3- ग्रीन तकनीक के संदर्भ में निम्न कथनों पर विचार करें

1- यह तकनीक केवल ऊर्जा के लिए इस्तेमाल होता है तथा जीवाश्म ईंधन के इस्तेमाल को रोकती है।
2- यह तकनीक जीवन प्रत्यासा तथा स्वास्थ्य को बढ़ाता है।

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) 1 और 2 दोनों
(d) कोई सही नहीं है।

4- निम्न में से किस राज्य में सबसे अधिक रामसर आर्द्रभूमि है?

(a) पंजाब
(b) ओडिशा
(c) राजस्थान
(d) तमिलनाडु

5- भारत में कितने जैव भौगोलिक क्षेत्र हैं?

(a) 8
(b) 6
(c) 12
(d) 10

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 31 January 2018

IAS EXAM

UPSC परीक्षा ​: समसमायिकी वस्तुनिष्ठ प्रश्न, Hindi Current Affairs MCQ - 31 January 2018

Q.1 प्रधान मंत्री कौशल केंद्र निम्नलिखित मंत्रालयों में से किसकी पहल है?

a) न्यूनतम शहरी विकास का
b) न्यूनतम स्वास्थ्य और परिवार कल्याण का
c) न्यूनतम मानव संसाधन का
d) न्यूनतम कौशल विकास और उद्यमिता का

Q.2 निम्नलिखित कथन में से कौन सा / सत्य है/हैं?

(i) तम्बाकू और अल्कोहल पर रोमन कानून सिद्धांत लागू होता है।
(ii) आरएलडी ने ट्रेडों के कानूनी स्टैंड के उद्योगों से इनकार करते हुए प्रतिबंध लगा दिया है।

a) केवल i
b) केवल ii
c) i और ii
d) न तो i और न ही ii

Q.3 भारत में सर्वोच्च न्यायिक प्राधिकरण कौन सा है, जिसका निर्णय सभी अदालतों पर बाध्यकारी है?

a) सुप्रीम कोर्ट
b) संसद
c) कानून मंत्री
d) लोकसभा

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-44

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) सीसैट CSAT (Hindi) Set-44

1. गद्यांश में दी गई जानकारी के आधार पर ऐडीज़ ऐल्चोपिक्टस मच्छर के बारे में निमलिखित में से कौन से निष्कर्ष तर्कपूर्ण माने जा सकते हैं?

(a) यह मूल रूप से अमेरिका में पाया जाता है ।
(b) यह केवल एशिया में फैल सकता है ।
(c) यह डेंगू विषाणु का संचरना करता है ।
(d) 1950 के दशक में इसके कारण डेंगू रक्तस्रावी बुखार की महामारी फैली ।

2. निम्नलिखित में से कौन गद्यांश के गठन को सटीक ढंग से समझाता है?

(a) एक विरोधाभास बताया गया, उस पर चर्चा हुई और अनिर्णीत छोड़ दिया गया ।
(b) दो विरोधी विचार रखे गए, उन पर बहस हुई और उनमें तालमेल बिठाया गया ।
(c) एक सिद्धांत प्रस्तावित किया गया और उसका समर्थन करने वाले तीन प्रयोगों का उल्लेख किया गया ।
(d) एक सामान्यीकरण की बात की गई और फिर उसका समर्थन करने वाले तीन उदाहरण दिए गए ।

3. निम्नलिखित में से कौन, यदि सत्य हो तो अमेरिका में लाइम रोग के प्रदुर्भाव के कारणों के बारे में लेखक के कथन को अधिक मजबूती देगा?

(a) बीसवीं शताब्दी के मध्य की अपेक्षा उन्नीसवीं शताब्दी के उत्तरार्ध में हिरणों की संख्या कम थी ।
(b) उनीसवीं सदी के अंत तक बाह्य मनोरंजन में रुचि विकसित होने लगी ।
(c) अभी हाल के वर्षों में उपकारी की वृद्धि बंद हो गयी है
(d) बाह्य मनोरंजन उत्साही (समर्थक) लाइम बीमारी से अपनी रक्षा करने के लिये नियमित रूप से कदम उठाते हैं।

लेखांशः प्रश्नों के लिए निर्देषः नीचे दिए गए लेखांश को पढ़े तथा उसके बाद प्रश्नों के उत्तर दे। आपके उत्तर लेंखांश पर ही आधारित होना चाहिए।

1959 में मिस सरकार नील नदी पर बाँध बनाने की योजना पर कार्य कर रही थी । इसे अस्वान बाँध कहा गया और इससे बिजली उत्पादन की अपेक्षा थी तथा नदी के पानी का प्रयोग कृषि के लिये स्वीकृत था । लेकिन योजना के साथ एक बड़ी समस्या थी । बाँध निकट में स्थित एक घाटी को जलमग्न कर सकता था जिसमें प्राचीन मिस्र की बहुमूल्य धरोहर सहित पत्थरांे के दो विशाल मंदिर निहित थे । सरकारों के समक्ष इतिहास और संस्कृति को आर्थिक पहलू से अधिक प्राथमिकता देना एक बहुत बड़ी समस्या और चुनौती हो सकती है ।
हालांकि, यदि देश सदैव इसी प्रकार के निर्णय लेते रहे, तो विश्व के अधिकांश प्राचीन स्थल विनष्ट होकर समाप्त हो जाएंगे । सौभाग्य से यूनेस्को ने इसमें दखलंदाजी की । यूनेस्को ने एक समिति गठित की एवं मिस्र को अपने प्राचीन धरोहर को संरक्षित करने को राजी करने का प्रयास किया । बहुत से देशों के समर्थन से, वे अंततः सफल रहे । दोनों विशाल मंदिर अपने मूल स्थलों से सावधानीपूर्वक हटाकर सुरक्षित स्थान पर ले जाए गए जिससे कि बाँध बनाया जा सके । यूनेस्को संयुक्त राष्ट्र संघ की एक एजेंसी है । संयुक्त राष्ट्र पूरे विश्व के देशों के बीच एक भागीदारी है । वे विश्व शांति को बढ़ावा देने मानवाधिकार को लागू करने एवं देशों को विकसित करने के लिए एकजुट हुये हैं । यूनेस्को संयुक्त राष्ट्र का ही एक हिस्सा है जो विज्ञान एवं संस्कृति से संबंधित है ।
मिस्र के मंदिरों को बचाने में सफल होने के बाद यूनेस्को ने पूरे विश्व के अन्य स्थलों को बचाने का अभियान जारी रखा । यूनेस्को ने वेनिस में लैगून पाकिस्तान में भग्नावशेष तथा इंडोनेशिया के मंदिरो को संरक्षण प्रदान किया । औद्योगीकरण के साथ तेजी से बदलते विश्व में बहुत से ऐसे स्थल थे जिन्हें बचाने की आवश्यकता थी ।
आखिरकार यूनेस्को ने आवश्यकतानुसार महत्वपूर्ण प्राकृतिक व ऐतिहासिक स्थलों के सरक्षण के लिये विश्व धरोहर संगठन ;ॅवतसक भ्मतपजंहम व्तहंदपेंजपवदद्ध का गठन किया । अब तक विश्व धरोहर संगठन ने सैकड़ों स्थलों आकर्षक द्वीप समूहों तथा बड़े शहरों में इमारतों से लेकर प्राचीन भग्नावशेषों को बचाया है । यदि आप कभी इन संरक्षित स्थलों में जाते है तो आप इसकी महत्ता से जरूर सहमत होंगे ।

4. यूनेस्को ने मिस्र में दखलंदाजी क्यों की?

(a) मिस्र ऐसा बाँध बनाने की योजना बना रहा था जो प्राचीन मंदिरों को नुकसान पहुँचा सकता था ।
(b) मिस्र कृषि एवं बिजली हेतु एक घाटी के निर्माण की योजना बना रहा था ।
(c) मिस्र प्राचीन मदिर के ठीक ऊपर एक बाँध बनाने की योजना बना रहा था ।
(d) जब बाँध ने घाटी को जलमग्न किया तो बहुत सी धरोहरो की खोज हुई ।

5. इस वाक्य का क्या आशय है ‘‘सरकारों के समक्ष इतिहास और संस्कृति को आर्थिक पहलू से अधिक प्राथमिकता देना एक बहुत बड़ी समस्या और चुनौती हो सकती है?’’

(a) अधिकांश सरकारें अपनी धरोहरें बेचना पसंद करती हैं।
(b) कभी-कभी अन्य सभी वस्तुओं की अपेक्षा धन अधिक महत्वपूर्ण प्रतीत होता है । ?
(c) सरकारें कभी भी एक साथ दो बातों पर विचार करने में सक्षम नहीं होतीं ।
(d) प्रायः सरकारें अपनी संस्कृति के बारे में कुछ नहीं जानतीं ।

यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा के लिए अध्ययन सामग्री UPSC Hindi Study Materials

Online Coaching for UPSC, IAS PRE Exam

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 44

Model Questions for UPSC PRE CSAT PAPER SET - 44

1. While sitting in examination hall, you noticed that your best friend had expired. You…

(a) Will leave the exam and become much tensed.
(b) Will complete the exam and then rush to your friend’s house.
(c) Will start informing others about it
(d) Will inform the police first before completing the papers.

2. You received an urgent message from your superior. But you feel that the massage is wrong you…

(a) Will show the massage to your best friend and then after seeing his reaction will decide to follow it or not
(b) Will obey first
(c) Ask the superior for classification
(d) Will not do anything and wait for the response of superior.

3. Some terrorists kidnapped a girl. You, while passing through that area, were approached by a person to help to rescue the girl you…

(a) Will not listen to the person as it may endanger your own life
(b) Will inform the police by calling on helpline number.
(c) Will involve yourself to make the Terrorist surrender.
(d) Ask help of some more people and then involve yourself.

4. A passenger in the train is beaten by a group of miscreants. You known that there is no fault of the passenger. You…

(a) Will keep quiet as it is not your business.
(b) Will inform the RPF staff
(c) Will involve yourself and then try to normalize the situation by persuading them.
(d) Will avoid it by engaging yourself in some other works like reading, newspapers etc.

5. A river has a tree at its bank. The angle of elevation from the top of this tree to another bank is 60° and the angle of elevation from the top of tree to a point 20 metres ahead of the bank is 30°. Find out the breadth of river.

(a) 10 metres
(b) 10Ö3 metres
(c) 20 metres
(d) None of these

Printed Study Material for UPSC CSAT Paper-2 Exam - 2018

Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-29

IAS EXAM


Model Questions for UPSC PRE यूपीएससी आईएएस (प्री) GS (Hindi) Set-29


1. भ्रूण के संदर्भ में निम्न कथनो पर विचार कीजिए

1. एक अवस्था जिसमें अपरिपक्व भ्रूण पूर्ण विकसित रूप में दिखई पड़ने लगता हैं।
2. अपरिपक्व भ्रूण परिपक्व भ्रूण में 2 माह बाद बनता हैं।

(a) दोनो 1 और 2
(b) केवल 1
(c) केवल 2
(d) न तो 1 न ही 2

2. निम्न कथनों पर विचार कीजिए

1. एक्रोसोम एंव विशेष तरह का लाइसोसोम होता हैं जो कि अण्डाणु के वाहय सतह पर होता हैं
2. एक्रोसोम शुक्राणु को संयुग्मित करने के लिए मार्ग देता हैं

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) दोनो 1 और 2
(d) न तो 1 न ही 2

3. ठंडे स्थानों पर झीलों के जम जाने के बावजूद मछलियाँ जीवित रहती हैं, क्योंकि:

(a) वे अपनी त्वचा के नीचे वस। की एक मोटी परत का विकास कर लेती हैं ।
(b) वे अपने शरीर में आॅक्सीजन संग्रह करके रखती हैं ।
(c) वे शीत के प्रति प्रतिरोधता विकसित कर लेती हैं ।
(d) झील की जमी हुई सतह के नीचे पानी द्रव अवस्था में होता है।

4. 4°C तापमान पर जल का घनत्व अधिकतम क्यों होता है?

1. हाइड्रोजन बंध के कारण
2. बर्फ की गैर-क्रिस्टलीय संरचना के कारण नीचे दिये गए कूटों में से सही उत्तर का चुनाव कीजिए-

(a) केवल 1
(b) केवल 2
(c) 1 और 2 दोनों
(d) न तो 1 न ही 2

5. निर्देशः आगामी प्रश्न में दो वक्तव्य हैं। एक को ‘कथन’ (A) तथा दूसरे को ‘कारण (R)’ कहा गया है। इन दोनों वक्तव्यों का सावधानीपूर्वक परीक्षण कर इस प्रश्न का उत्तर नीचे दिए हुए कूट की सहायता से चुनिए

कथन (A) बिजली चमकने की स्थिति में यदि कोई व्यक्ति एक राजमार्ग पर कार में है तब उसे अपनी कारमें चारों ओर से शीशे-दरवाजे बंद कर बैठना उपयुक्त होगा ताकि वह बिजली के प्रभाव से स्वयं को बचा सके।.

कारक (R) चालक के अंदर विद्युतीय क्षेत्र शून्य होता हैं।

(a) A तथा R दोनों सही हैं तथा R, A की सही व्याख्या हैं।
(b) A, तथा त् दोनों सही हैं तथा R, A की सही व्याख्या नहीं है।
(c) A सही है, परन्तु R गलत है।
(d) A गलत है परन्तु R सही है।

UPSC सामान्य अध्ययन (GS) प्रारंभिक परीक्षा (Pre) पेपर-1 स्टडी किट

UPSC सामान्य अध्ययन प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा (Combo) Study Kit 2018

Pages

Subscribe to RSS - user7's blog